रुड़की : दुश्मनों को फंसाने के लिए की थी पत्नी की हत्या

रुड़की, भगवानपुर पुलिस ने 12 अगस्त को भगवानपुर में हुए महिला हत्याकांड के मामले का खुलासा कर दिया. रुड़की एसपी देहात कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी देहात मणिकांत मिश्र ने बताया शव की शिनाख्त सोनी पुत्र चंद्रहास प्रसाद निवासी पटना के रूप में हुई थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर बिहार जाकर जांच की तो मामले से पर्दे उठते चले गए.

एसपी देहात ने बताया पुलिस ने महिला के पति मुकेश निवासी ग्राम भेड़िया थाना चंडी जिला नालन्दा बिहार को गिरफ्तार कर लिया. उन्होंने बताया आरोपी ने 1997 में अपने चाचा और दादी की हत्या कर दी थी. वर्ष 2000 में पुलिस की हिरासत से भाग गया था. पुलिस ने आरोपी के पास से एक स्कूटर, कुदाल बरामद किया है. खुलासा करने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष भगवान महर, उपनिरीक्षक भवानी शंकर पंत, उपनिरीक्षक अजय शाह, कॉन्स्टेबल प्रवीण रावत, विनोद कुंडलियां, बलविंदर सिंह, अशोक कुमार आदि शामिल रहे.

पुलिस गिरफ्त में आया मुकेश बहुत ही शातिर अपराधी है 1997 अपने चाचा और दादी की हत्या के आरोप में वह जेल जा चुका है तो वहीं सजा के दौरान सन 2000 में पुलिस की हिरासत से फरार होने का आरोप भी मुकेश पर है. सोनी मुकेश की दूसरी पत्नी थी और इसकी हत्या इसने इसलिए की ताकि वह अपने दुश्मनों को उसकी हत्या के आरोप में फंसा सके. मुकेश ने पहली शादी अपनी सगी मामी को घर से भगाकर की थी और लगातार उसके सम्पर्क में है. मुकेश के पास से पुलिस को 17 सिम बरामद हुए है. जिन्हें बदलकर वो अपनी पहली पत्नी से बात करता था.