अनुच्छेद 35-A जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए आस्था का विषय : फारूख अब्दुल्ला

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को कहा कि संविधान का अनुच्छेद 35-ए जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए ‘आस्था का ऐसा विषय है जिस पर कोई बहस नहीं हो सकती.’ उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्य के विशेष दर्जे की रक्षा के लिए हर लड़ाई लड़ने को तैयार है.

कुपवाड़ा जिले में अपनी पार्टी के एक कार्यक्रम में फारूक ने कहा, ‘अनुच्छेद 35-ए जम्मू, कश्मीर और लद्दाख के लोगों के लिए अहम है और इस पर बहस की कोई गुंजाइश नहीं है और अपना एजेंडा पूरा करने के लिए हमें क्षेत्रीय एवं धार्मिक आधार पर बांटने वाले लोगों की हार होगी.’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘यह जम्मू-कश्मीर के हर एक नागरिक के हितों, अधिकारों एवं गरिमा की लड़ाई है, चाहे उसका धर्म, क्षेत्र, भाषा या जाति कुछ भी हो.’