डेरा हिंसा : उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान के कई जिलों में धारा 144

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को बलात्कार के एक मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद हरियाणा और अन्य स्थानों पर हुई हिंसा के मद्देनजर शुक्रवार को दिल्ली के मध्य और उत्तरी जिलों को छोड़कर शेष सभी जिलों, उत्तर प्रदेश के नौ जिलों और राजस्थान के एक जिले में निषेधाज्ञा लगा दी गई.

दिल्ली स्थित कमान रूम के मुताबिक मध्य और उत्तरी जिलों को छोड़कर सीआरपीसी की धारा 144 दिल्ली के सभी जिलों में लगाई गई है. दिल्ली में बसों को फूंके जाने के मद्देनजर निषेधाज्ञा आठ सितंबर तक रहेगी.

विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था, उत्तरी) एसबीके सिंह ने बताया, ‘एहतियाती कदम उठाते हुए हमने 11 पुलिस जिलों में सीआरपीसी की धारा 144 लगा दी है.’ दिल्ली में 13 पुलिस जिले हैं.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दिल्ली, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. इन इलाकों में कर्फ्यू भी लागू नहीं किया गया है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक उत्तर प्रदेश के नौ जिलों – मेरठ, सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, बागपत और हापुड़ में सीआरपीसी की धारा 144 लगाई गई है. उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है.

शामली के अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट शिव बहादुर सिंह ने बताया कि जिले में 31 अक्टूबर तक निषेधाज्ञा जारी रहेगी. जयपुर स्थति राज्य डीजीपी नियंत्रण कक्ष के प्रवक्ता के मुताबिक राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में निषेधाज्ञा लगाई गई है. राज्य में हालात नियंत्रण में हैं.