उत्तराखंड : इन जिलों के लोगों को फोन करने से पहले सौ बार सोचना पड़ता है, जानें क्यों

उत्तराखंड के नेपाल सीमा से सटे चंपावत व पिथौरागढ़ जिले के बड़े क्षेत्र में नेपाल के मोबाइल टावरों के सिग्नल पकड़ रहे हैं. इसके चलते यहां के लोग जब कॉल करते हैं तो उन पर अक्सर आइएसडी (इंटरनेशनल सब्सक्राइबर डायलिंग) की दर लागू हो जाती है. इस विकट समस्या को देखते हुए देहरादून स्थित टेलीकॉम इंफोर्समेंट, रिसोर्स एंड मॉनिटरिंग(टर्म) सेल ने विभिन्न दूरसंचार प्रदाता कंपनियों को नोटिस जारी किए है. यह नोटिस देहरादून निवासी अधिवक्ता राजेंद्र प्रसाद की शिकायत पर जारी किए गए.

टर्म सेल के उपमहानिदेशक मनोज पंत के मुताबिक नेपाल सीमा से लगे चंपावत व पिथौरागढ़ के जिन क्षेत्रों में भारत की दूरसंचार कंपनियों के टावर ढंग से काम नहीं कर रहे हैं, वहां यह समस्या आ रही है. ऐसे में भारत के टावरों के सिग्नल न मिलने पर नेपाल के टावरों के सिग्नल काम करना शुरू कर दे रहे हैं.

इसी कारण इन क्षेत्रों में आइएसडी लग रही है. बीएसएनएल समेत क्षेत्र में काम कर रहे सभी ऑपरेटरों को लेकर यह शिकायत मिल रही है. टर्म ने अपने स्तर पर संबंधित कंपनियों को नोटिस भेजकर सिग्नल की स्थिति को सुधार करने को कहा है.

उन्होंने कहा कि नेपाल सरकार से भी सहयोग मांगने के लिए दूरसंचार मंत्रालय को भी पत्र लिखा जा रहा है.ताकि केंद्र सरकार के स्तर पर नेपाल सरकार के साथ बात कर उचित समाधान निकाला जा सके.