दुष्कर्म मामले में गुरमीत राम रहीम दोषी

पंचकुला, यहां स्थित सीबीआई की विशेष अदालत ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह को दुष्कर्म के मामले में दोषी करार दिया है. अदालत सजा पर फैसला 28 अगस्त को सुनाएगी.

डेरा प्रमुख पर उनकी एक पूर्व शिष्या ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था.

गौरतलब है कि चंडीगढ़ से करीब 250 किलोमीटर की दूरी पर स्थित डेरा मुख्यालय से कड़ी सुरक्षा के बीच 50 वर्षीय पंथ प्रमुख राम रहीम सुबह नौ बजे पंचकूला के लिए रवाना हुए थे. सिरसा के उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने बताया, ‘वह सिरसा से सड़क मार्ग से रवाना हुए.’ गौरतलब है कि डेरा प्रमुख को ‘जेड’ श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है, इसके बावजूद वह निजी सुरक्षाकर्मी भी रखते हैं.

विशेष सीबीआई अदालत ने आज डेरा प्रमुख के खिलाफ 2002 के यौन उत्पीड़न के एक मामले में फैसला सुनाया है. फैसले से पहले तनाव को देखते हुए डेरा प्रमुख ने अपने अनुयायियों से अपील किया है कि वह शांति बनाए रखें.राम रहीम सिंह द्वारा कथित रूप से दो साध्वियों का यौन उत्पीड़न किये जाने संबंधी अज्ञात व्यक्ति की चिट्ठी मिलने के बाद पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देश पर सीबीआई ने 2002 में डेरा प्रमुख के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

डेरा प्रमुख ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया है. अधिकारियों का कहना है कि अदालत के फैसले के मद्देनजर पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ की सुरक्षा चाक चौबंद हैं. पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में निषेधाज्ञा धारा 144 लगाई गई है.