देहरादून : ATM कार्ड क्लोनिंग कर ग्राहकों को लाखों का चूना लगाने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

सांकेतिक फोटो

उत्तराखंड पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने हाल में शहर में हुए 37 लाख रुपये के एटीएम कार्ड धोखाधडी मामले में तीन मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

एसटीएफ की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रिद्धिम अग्रवाल ने अस्थायी राजधानी देहरादून में संवाददाताओं को बताया कि सभी आरोपियों, रणबीर, जगमोहन और सुनील को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से गिरफ्तार किया गया और बुधवार शाम ट्रांजिट रिमांड पर देहरादून लाया गया.

उन्होंने बताया कि आरोपियों को गुरुवार को अदालत में पेश किया जाएगा. अग्रवाल ने बताया कि आरोपियों ने पिछले माह शहर ​के दो एटीएम में स्कीमिंग डिवाइस और एक कैमरा लगाकर ग्राहकों के एटीएम कार्डों की क्लोनिंग कर ली और फिर उनका पिन नम्बर तथा अन्य जरूरी डाटा चोरी कर उनके बैंक खातों से करीब 37 लाख रुपये निकाल लिए.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि अपराध को अंजाम देने से पहले आरोपियों ने ऐसे एटीएम को चिन्हित किया, जहां गार्ड तैनात नहीं थे और फिर वहां स्कीमिंग डिवाइस और कैमरा फिट कर ग्राहकों के एटीएम कार्ड कॉपी कर लिए तथा पिन नम्बर चुरा लिए.

उन्होंने बताया कि हरियाणा के रहने वाले आरोपियों ने फेविक्विक की मदद से आसपास के एटीएम के कीपैड भी जाम कर दिए, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग स्कीमिंग डिवाइस और कैमरा फिट किए हुए एटीएम से ही पैसा निकालने जाएं.

अग्रवाल ने बताया कि शहर के विभिन्न पुलिस थानों में एटीएम कार्डों की धोखाधडी कर 37 लाख रुपये निकाले जाने के कुल 97 मामले दर्ज किए गए. इस धोखाधडी मामले की एक महिला सह अभियुक्त अनिल कुमारी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है.