रेल हादसे : रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने की इस्तीफे की पेशकश, PM बोले- इंतजार करें

एक हफ्ते के भीतर उत्तर प्रदेश में दो रेल हादसे के बीच रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर इस्तीफे की पेशकश की. वही प्रधानमंत्री ने उन्हें इंतजार करने के लिए कहा है.रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिला और रेल हादसे की नैतिक जिम्मेदारी ली.

पीएम ने इंतजार करने के लिए कहा है.’ इससे पहले रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एके मित्तल ने इस्तीफा दे दिया था.
विपक्षी दल लगातार हो रहे रेल हादसे के बाद से सुरेश प्रभु से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं.

आपको बता दें की उत्तर प्रदेश में कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में अछल्दा स्टेशन के पास बुधवार तड़के आजमगढ़ से दिल्ली जा रही कैफियत एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसके बाद ट्रेन के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए.इस हादसे में 78 लोग घायल हो गए हैं. अपर पुलिस महानिदेश (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया कि इस हादसे में 78 लोग घायल हैं, जिनमें चार की हालत गंभीर है.

इससे पहले शनिवार को ही पुरी से हरिद्वार जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस मुजफ्फरनगर के पास पटरी से उतर गई थी, जिसमें 21 लोगों की मौत हो गई, जबकि 156 लोग घायल हो गए थे.

प्रभु ने ट्वीट करके लिखा, ‘मैंने माननीय पीएम नरेंद्र मोदी से मिलकर (इन घटनाओं की) पूरी नैतिक जिम्मेदारी ली है.माननीय पीएम ने मुझे इंतजार करने को कहा है.’ प्रभु ने लिखा, ‘मुझे इन दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं, यात्रियों के घायल होने और उनको हुए जान-माल के नुकसान से बहुत ज्यादा पीड़ा हुई है.’