आरक्षण: मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, ओबीसी क्रीमी लेयर सीमा बढ़ कर हुई इतनी

केंद्रीय कैबिनेट ने ओबीसी आरक्षण के लिए क्रीमी लेयर की आय सीमा को बढ़ा दिया है. अब आठ लाख रुपये सालाना तक कमाने वाली अन्य पिछड़ी जातियां (OBC) क्रीमी लेयर में आएंगी. पहले यह सीमा छह लाख रुपये सालाना की थी. सरकार के नए फैसले की वजह से अब ओबीसी वर्ग के ज्यादा लोगों को नौकरियों और भर्तियों में आरक्षण का फायदा मिल सकेगा.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि ओबीसी की सूची में सब-कैटिगरी बनाने की दिशा में एक आयोग का गठन करने के लिए राष्ट्रपति के पास सिफारिश भेजी गई है. इससे, लाभ पाने से वंचित रह जाने वाले लोगों को भी शामिल किया जा सकेगा.

अब तक 6 लाख रुपये या इससे अधिक सालाना आय वाले ओबीसी परिवार को लाभ पाने वालों की सूची से हटाकर क्रीमी लेयर में रखा गया था. इस आय वर्ग के ओबीसी को किसी तरह का फायदा नहीं दिया जाता है. बता दें कि केंद्र सरकार ने क्रीमी लेयर को फिर से परिभाषित करने की मंशा जाहिर की थी, ताकि इसका फायदा जरूरतमंद और समाज के निचले तबके तक पहुंचाया जा सके. ओबीसी आरक्षण के लिए आखिरी समीक्षा 2013 में की गई थी.