आज हो सकता है अन्नाद्रमुक के धड़ों का विलय, पनीरसेल्वम बनेंगे महासचिव

चेन्नई, अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों के विलय की वार्ता के बीच महाराष्ट्र के राज्यपाल सी विद्यासागर राव जिन्‍होंने तमिलनाडु का अतिरिक्त दायित्व संभाल रखा है, चेन्‍नई के लिए रवाना हो गए है. पीआरओ ने बताया कि राव की मुंबई के सभी कार्यक्रम कैंसल कर दिए गए हैं. तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने रविवार को कहा कि अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों के विलय की वार्ता एक कदम और आगे बढ़ गई है. सूत्रों के मुताबिक, सोमवार को अमावस्या है और इस दिन को बेहद पवित्र माना जाता है लिहाजा इस बात की प्रबल संभावना है कि विलय समझौते पर मुहर लग जाए.

सूत्रों के मुताबिक, सोमवार को पार्टी मुख्यालय में एक बैठक हो सकती है, जिसमें मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी गुट वीके शशिकला को पार्टी से औपचारिक रूप से निष्कासित करने के सवाल पर फैसला ले सकता है.पन्नीरसेल्वम ने भी पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘विलय का हमारा उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि पार्टी किसी एक परिवार के चंगुल में फंसकर न रह जाए।’ इस बीच, पन्नीरसेल्वम गुट के एक नेता ने विलय समझौते के बारे में संकेत देते हुए बताया कि के. पलानीस्वामी सरकार के प्रमुख बने रहेंगे, जबकि एकीकृत पार्टी की कमान ओ. पन्नीरसेल्वम संभालेंगे.

इसके अलावा वह उप-मुख्यमंत्री का पद भी संभाल सकते है. साथ ही उनके गुट के कुछ सदस्यों को कैबिनेट में भी समायोजित किया जाएगा. उन्होंने राज्य विधानमंडल के उच्च सदन को पुन:स्थापित किए जाने की संभावना टटोले जाने के भी संकेत दिए. उधर, अन्नाद्रमुक के उप-महासचिव दिनाकरन ने ताजा घटनाक्रम के मद्देनजर रविवार को अपने समर्थकों के साथ विचार-विमर्श किया. बैठक के बाद उनके एक विश्वस्त नन्जिल संपत ने कहा कि दोनों धड़े चाहे जो फैसला लें, दिनाकरन में इतनी क्षमता है कि वह उस पर पूर्ण विराम लगा सकते हैं और आगामी दिनों में इसे साबित भी करके दिखाया जाएगा.