बिहार : उपमुख्यमंत्री के काफिले पर हमला करने के आरोप में 6 गिरफ्तार

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (सुमो) के काफिले पर मंगलवार शाम वैशाली जिले के राजापाकर थाना क्षेत्र में पथराव करने के आरोप में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के छह संदिग्ध कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. वैशाली के पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बुधवार को बताया कि उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के काफिले पर पथराव करने के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

उन्होंने बताया कि राजापाकर के एक सहायक निरीक्षक (एसआई) के बयान पर उपमुख्यमंत्री के काफिले पर हमला करने के आरोप में मंगलवार रात एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, जिसमें नौ लोगों को नामजद किया गया है और 100 अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है. उन्होंने बताया कि छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. उन्होंने कहा कि पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है.

उल्लेखनीय है कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक, सुमो मंगलवार शाम भाजपा के पूर्व विधायक अच्युतानंद सिंह की मां के श्राद्ध कार्यक्रम में भाग लेने जंदाहा जा रहे थे, तभी कालापहाड़ गांव के समीप उनके काफिले पर पथराव किया गया. इस पथराव में उपमुख्यमंत्री को चोट नहीं लगी थी, लेकिन उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई थी. गौरतलब है कि कुछ ही समय पहले इस क्षेत्र से पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव का काफिला गुजरा था और राजद कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया था.

मोदी ने बुधवार को स्पष्ट किया कि राजद के कई कार्यकर्ता उनके खिलाफ नारे लगाते हुए उनके वाहन को घेर लिया और पथराव शुरू कर दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि कई कार्यकर्ताओं ने उनके वाहन में भी घुसने का प्रयास किया. राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने इस घटना की निंदा करते हुए इसमें राजद कार्यकर्ताओं का हाथ होने से साफ इंकार किया है.उन्होंने कहा कि यह राजद को बदनाम करने की साजिश है. इधर, राजद नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने भी इस घटना में राजद कार्यकर्ताओं के हाथ होने से इंकार किया है.