टेरर फंडिंग : अलगाववादियों के 12 ठिकानों पर NIA की छापेमारी

जम्मू-कश्मीर में टेरर फंडिंग मामले में नैशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) की कार्रवाई जारी है. NIA की टीम ने बुधवार को श्रीनगर, हंदवाड़ा और बारामूला समेत जम्मू-कश्मीर में 12 जगहों पर छापे मारे. बारामूला जिले के कुंजर इलाके में अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस से जुड़े जुहूर वताली के रिश्तेदारों के ठिकानों पर भी छापेमारी चल रही है. श्रीनगर में एक कारोबारी के 2 ठिकानों पर भी छापेमारी चल रही है. वहीं, एनआईए ने अपना फोकस अब कट्टरपंथी हुर्रियत नेता सैयद अली शाद गिलानी पर कर दिया है.

जम्मू-कश्मीर में अशांति और आतंकियों को फंडिंग के मामले में एनआईए गिलानी के बेटों नईम और नसीम से उनके पिता की भूमिका के बारे में कड़ाई पूछताछ कर रही है. सीनियर गिलानी को भी पूछताछ के लिए जल्द तलब किया जा सकता है.

बता दें कि एनआईए पिछले कुछ महीनों से टेरर फंडिंग के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रही है. एजेंसी अब तक इस सिलसिले में कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है तो कुछ को गिरफ्तार भी किया जा चुका है. अब तक अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के 7 नेताओं को गिरफ्तार किया गया है. इनमें शब्बीर शाह, फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा कराटे, नईम खान, शाहिद-उल-इस्लाम, अल्ताफ फंटूश, मेहराजुद्दीन, अयाज अकबर और पीर सैफुल्ला शामिल हैं.