सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से कोई नोटिस नहीं मिला : ‘पहरेदार पिया की’ के निर्माता

सोनी टीवी में प्रसारित हिंदी टीवी शो ‘पहरेदार पिया की’ के निर्माताओं ने सोमवार को कहा कि उन्हें अभी तक सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से शो को बंद करने का कोई नोटिस नहीं मिला है. यह शो एक 18 साल की लड़की का नौ साल के बच्चे से शादी को लेकर सुर्खियों में बना हुआ है. शो में बच्चे को लड़की का पीछा करते हुए उसकी तस्वीरें भी लेते हुए दिखाया गया है और हनीमून मनाते दिखाया गया है, जिसके बाद से इस शो की काफी आलोचना हो रही है.

शो को बनाने वाले ‘शशि सुमित प्रोडक्शंस’ के निर्माता सुमित मित्तल और साक्षी मित्तल ने ‘पहरेदार पिया की’ के कहानी को लेकर मचे बवाल के बीच एक संवाददाता सम्मेलन रखी. शो में 18 साल की लड़की और नौ साल के बच्चे के बीच ‘सुहागरात’ होता भी दिखाया गया है. निर्माताओं ने कहा कि वे जरूरत पड़ने पर संबंधित प्राधिकरण को स्पष्टीकरण देने के लिए तैयार हैं. यहां तक कि मुंबई की एक एनजीओ द्वारा और एक दर्शक द्वारा ऑनलाइन याचिका देकर प्राइम टाइम में प्रसारित होने वाले शो पर रोक लगाने की मांग की गई है.

 

साक्षी से जब पूछा गया कि क्या उन्हें सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से कोई नोटिस मिला है तो उन्होंने कहा, “नहीं, हमें अधिकारियों से कोई नोटिस नहीं मिला है और अगर हमें मिलता है तो हम स्पष्टीकरण देने के लिए तैयार हैं क्योंकि हम जानते हैं कि हमने कहानी में कुछ गलत नहीं दिखाया है. हम सबसे यह कहना चाहते हैं कि शो को देखे बिना जज नहीं करें.”

 

यह पूछे जाने पर कि अगर ‘प्रसारण सामग्री शिकायत परिषद’ (बीसीसीसी) निर्माताओं से कहानी के विषयवस्तु में बदलाव लाने के लिए कहता है तो वे क्या करेंगे, इस पर सुमित ने कहा, “नहीं, हम बदलाव करने के बजाय उनसे कोई भी फैसला लेने से पहले कहानी को जानने का अनुरोध करेंगे. अभी तक हमारी शो के विषयवस्तु में बदलाव लाने की कोई योजना नहीं है.”निर्माताओं ने संवाददाता सम्मेलन में ‘पहरेदार पिया की’ के दो एपिसोड भी दिखाए कि किन हालातों में दीया (किरदार का नाम) की शादी रतन (बच्चे) से हुई है.

 

साक्षी के मुताबिक, कई लोगों ने शो को बिना देखे इस पर प्रतिबंध लगाने की बात की है. उन्होंने बताया कि एक पार्टी में कुछ महिलाएं शो पर प्रतिबंध लगाने का बात कर रही थी, जब उन्होंने उनसे पूछा कि क्या उन्होंने शो देखा है, तो उन लोगों ने मना कर दिया. उन्होंने सवालिया लहजे में पूछा कि फिर यह तर्कसंगत कैसे है? अभिनेता करण वाही ने भी पिछले महीने सोशल मीडिया पर शो की कहानी को लेकर अलोचना की थी. साक्षी ने कहा कि शो में परिवार के लोग दिव्या और रतन को जानबूझकर परेशान करने और उनका मजाक बनाने के लिए उनके कमरे को सजाकर उन्हें सुहागरात मनाने और फिर हनीमून मनाने जैसे असहज माहौल में डालते हैं. उन्होंने कहा कि एपिसोड देखने पर आपको पता चलेगा कि कोई भी असहज दृश्य नहीं फिल्माए गए हैं.