JDU के बागियों के नीतीश ने कतरे पर

सोमवार को जनता दल यूनाइटेड ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष व वरिष्ठ नेता शरद यादव के समर्थक 21 नेताओं को त्वरित प्रभाव से निलंबित कर दिया है. इसमें मंत्री व पार्टी के वरिष्ठ नेता रमई राम से लेकर पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, जिला अध्यक्ष, प्रखंड अध्यक्ष स्तर तक के नेता शामिल हैं. पार्टी ने रमई राम के अलावा सीतामढ़ी के पूर्व सांसद अर्जुन राय, वैशाली के पूर्व विधायक राजकिशोर सिन्हा आदि को निलंबित किया है.

वहीं, शरद यादव खेमे के एक अहम नेता व राज्यसभा सांसद अली अनवर ने कहा है कि नीतीश कुमार के साथ पार्टी की सिर्फ बिहार इकाई का समर्थन है. उन्होंने कहा है कि नीतीश के बिहार की सरकारी जदयू है, जबकि शरद यादव के पास असली जदयू है.

अली अनवर ने कहा है कि जनता दल यूनाइटेड एक राष्ट्रीय पार्टी है और दूसरी प्रदेश इकाइयों का समर्थन व विश्वास शरद यादव को प्राप्त है. मालूम हो कि शरद यादव खेमा जदयू पार्टी संगठन पर अपना कब्जा जताने के लिए चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाने का मन बना रहा है. शरद खेमे का कहना है कि उसे 14 राज्य इकाइयों का समर्थन प्राप्त है. जदयू के राज्यसभा में कुल 10 सांसद हैं, जिसमें शरद खुद भी शामिल हैं. शरद यादव को जदयू के दो राज्यसभा सांसदों का भी समर्थन प्राप्त है.