पिथौरागढ़ : धारचूला में बादल फटा, कई मकान ध्वस्त, लोगों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किया गया

पिथौरागढ़ जिले में धारचूला के ढूंगातोली गांव के दोपातल तोक में रविवार रात करीब आठ बजे बादल फटने से चार मकान ध्वस्त हो गए. 15 परिवारों को गांव से 1.5 किलोमीटर दूर जूनियर हाइस्कूल के भवन में शिफ्ट किया गया है. रात करीब 9 बजे जिला आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ ने जानकारी दी कि इस घटना में संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचा है, लेकिन अच्छी बात यह है कि किसी की मौत की सूचना नहीं है.

हालांकि कुछ जानवरों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है. इस बीच रविवार को भूस्खलन-बारिश की वजह से राज्य में दो लोगों की मौत हो गई. इस बीच राज्य मौसम विज्ञान केंद्र ने बादल छाए रहने के साथ ही राज्य के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है.

पिथौरागढ़ जिले में ही बंगापानी तहसील के मदरमा गांव के टिपुलिया तोक में मकान के मलबे से रविवार को भवान सिंह की 16 साल की बेटी सुनीता का शव बरामद हो गया. इस दौरान मलबे से दो गाय और तीन बछड़े भी जिंदा निकाल लिए गए. मलबे में दबे शेर सिंह (40) पुत्र राम सिंह और उनकी पत्नी राधा देवी (35) को नहीं निकाला जा सका. 17 गाय, बैल, बछड़े और 28 बकरियां भी मलबे में दबी हुई हैं. यहां शनिवार की रात मलबे से मकान ध्वस्त हुए थे.

खटीमा के नगरातराई में बारिश के कारण दीवार ढहने से 67 वर्षीय गंगाराम की मौत हो गई. उधर, पौड़ी जिले के दुगड्डा ब्लॉक के धरियालसार गांव के पास बादल फटने से करीब तीन किमी क्षेत्र खाई में तब्दील हो गया. पैदल पुल, पेयजल लाइनें और सैकड़ों पेड़ नाले में आए सैलाब की भेंट चढ़ गए. हालांकि, जानमाल को कोई नुकसान नहीं हुआ. उधर, चंबा में ग्राम पंचायत थान के जौरासी-ग्वाड़की तोक में भूस्खलन के मलबे में दबने से एक मनरेगा श्रमिक की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल हो गया.

बंगापानी में घायल रेखा को जिला अस्पताल पहुंचाने के लिए देहरादून से हेलीकॉप्टर आया तो लेकिन मौसम खराब होने के कारण हल्द्वानी से आगे उड़ान नहीं भर सका. इसी तहसील के धामीगांव में भारी भूस्खलन से दो भाइयों की दुकान भी ढह गई.

थल-मुनस्यारी रोड पर रातीगाड़ के पास शनिवार की रात करीब नौ बजे भारी बारिश के दौरान सड़क का करीब 25 मीटर हिस्सा बहकर रामगंगा में समा गया. इस रोड को खोलने में लोक निर्माण विभाग को 15 घंटे का समय लगा. धारचूला से खुमती जाने के लिए पैदल रास्ते पर कालिकागाड़ में बने पैदल पुल के एक तरफ की दीवार बह गई है. बनबसा में शारदा नदी का जलस्तर रविवार को दो घंटे तक एक लाख क्यूसेक से अधिक होने से बैराज पर रेड अलर्ट कर दिया गया.

नैनीताल में राजभवन और कालाढूंगी मोटर मार्ग पर बांज और तिलौज के पेड़ गिर गए. इस कारण राजभवन मार्ग पांच घंटे और कालाढूंगी मार्ग एक घंटे तक बंद रहा. लालकुआं के हाथीखाना मोहल्ले में मकान का लिंटर गिरने से एक युवक घायल हो गया.