तस्करों ने बीच समुद्र में 180 लोगों को नाव छोड़ने पर किया मजबूर, 5 की मौत

प्रवासियों के अंतर्राष्ट्रीय संगठन (IOM) ने कहा है कि यमन जाने वाली एक नौका पर सवार 180 अफ्रीकी युवाओं में कम से कम 5 लोग डूब गए हैं और 50 अन्य लापता हो गए हैं. इन लोगों को तस्करों ने नौका छोड़ने के लिए मजबूर किया. इन प्रवासियों में इथियोपिया और सोमालिया के नागरिक शामिल थे. भूख और सूखे से बेहाल ये लोग बेहतर जीवन की तलाश में निकले थे.

IOM ने कहा कि यमनी बीच पर 25 लोगों की चोट का इलाज किया जा रहा है. गौरतलब है कि तस्करों ने स्थानीय अधिकारियों की गिरफ्तारी से बचाने के लिए गुरुवार को 120 से अधिक सोमाली और इथोपियाई प्रवासियों को बीच समुद्र में नौका छोड़ने के लिए मजबूर किया था. इसके बाद वे अन्य प्रवासियों को लाने के लिए वापस चले गए थे. IOM की प्रवक्ता ने बताया कि बाकी के 50 लापता लोगों के भी मारे जाने की संभावना है.

IOM के मुताबिक, सोमालिया और इथियोपिया के ये युवा काफी दुबले हो गए थे. गौरतलब है कि सोमालिया और इथियोपिया में इस समय जबर्दस्त सूखा पड़ रहा है जिसकी वजह से वहां जीवन बेहद कठिन हो गया है. इसीलिए ये लोग बेहतर जीवन की तलाश में यमन की तरफ आ रहे थे, हालांकि यमन खुद 2 साल से सिविल वॉर की चपेट में है.