खुल गया चोटी कटने का रहस्य! पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

सांकेतिक फोटो

चोटी कटने घटनाएं मथुरा, आगरा, गुरुग्राम, दिल्ली और नोएडा होते हुए उत्तराखंड भी पहुंच गई है. उत्तराखंड के कई हिस्सों चोटी कटने की घटनाएं सामने आने के बाद के बाद अब इन घटनाओं के पीछे एक सनसनीखेज सच सामने आया है.

बुधवार को ज्वालापुर के सुभाषनगर और रोशनाबाद गांव में दो महिलाओं की चोटी कटने की घटना के बाद एसएसपी ने कहा कि महिलाओं ने स्वयं अपनी चोटी काटी है. उन्होंने महिलाओं को हिस्टीरिया की बीमारी होने का दावा किया है.

कहा कि हिस्टीरिया बीमारी का कोई निश्चित लक्षण नहीं होता है. एक ही रोगी के शरीर में अलग-अलग समय पर अलग-अलग लक्षण दिखते हैं. माना जा सकता है कि महिला चोटी काटने वाली अफवाह के बारे में सोच रही हो तो स्वयं अपनी चोटी काट लेती हैं और उन्हें इसकी जानकारी तक नहीं होती है.

मरीज जिसकी कल्पना करता है बस वही उसे दिखता है. दौरा आने से पहले ही रोगी चीखता चिल्लाता है. उसे लगातार हिचकियां आती हैं. एसएसपी कार्यालय की ओर से सीएमओ को पत्र भेजा गया है.

जिसमें हिस्टीरिया बीमारी से ग्रस्त महिलाओं का चेकअप कराने के लिए टीम गठित करने की संस्तुति की है. एसएसपी कृष्ण कुमार वीके ने बताया कि महिलाएं संभवत: हिस्टीरिया नामक बीमारी से पीड़ित हैं. इसके जांच के लिए सीएमओ को पत्र भेजा गया है.