लालू के करीबी की गोली मारकर हत्या

बिहार राजधानी पटना में गुरुवार सुबह राजद नेता और वार्ड पार्षद केदार राय की गोली मारकर हत्या कर दी गई. सगुना मोड़ के पास मॉर्निंग वॉक के दौरान राजद नेता को अपराधियों ने ताबड़तोड़ तीन गोलियां मार दी जिसके बाद अस्पताल में इलाज के दौरान केदार राय ने दम तोड़ दिया.

 

मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार सुबह वे मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे कि एक ही बाइक पर सवार तीन अपराधियों ने उन्हें गोली मारी और फरार हो गए. घायल अवस्था में उन्हें पटना के ही एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई. केदार राय के भाई ने 21 लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई है जिसमें से पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार लोगों से पुलिस गहन पूछताछ कर रही है. हत्या के बाद लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। वहीं इस घटना के बाद राजनीतिक बयानबाजी भी तेज हो गई है.

 

राजद नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि जब से बिहार में एनडीए की सरकार बनी है तब से राजद के कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि यही नीतीश जी का अपराधमुक्त बिहार है जहां दिन दहाड़े अपराधी गोली मारकर फरार हो जाते हैं.वहीं जदयू नेता नीरज कुमार ने उनके इस बयान को लेकर नाराजगी जताई है और कहा है कि अपराध मुक्त बिहार नारा है और रहेगा. अपराधी किसी पार्टी का नहीं होता, किसी का सगा नहीं होता और पुलिस ने तुरत कार्रवाई की है, चार लोग गिरफ्तार हुए हैं। अपराध करने वाला कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा.

 

बताया जाता है कि केदार राय राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेहद करीबी थे. अपराधियों की ओर से फायरिंग में केदार राय को तीन गोलियां लगी थी. अभी तक हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है लेकिन मिली जानकारी के मुताबिक उनकी हत्या जमीन के विवाद में की गई है. इस घटना के बाद परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है. पुलिस के साथ ही एसआरएफ के जवान केदार राय के घर पहुंच गए हैं, घटना की गहन जांच की जा रही है. पुलिस घरवालों से जानकारी ले रही है. घटना की जानकारी मिलने के बाद काफी संख्या में लोग भी पहुंचे है.