मुख्यमंत्री शीघ्र ही सभी जनपदों के छात्र-छात्राओं से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वार्ता करेंगे

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत शीघ्र ही प्रदेश के सभी जनपदों के किसानों, उद्यमियों, शिक्षकों, विद्यार्थियों, युवाओं एवं महिलाओं से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से नियमित संवाद प्रारंभ करने जा रहे है. मुख्यमंत्री ने यह जानकारी बुधवार को सचिवालय में सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग करते समय दी.

मुख्यमंत्री श्री रावत ने बताया कि आगामी 9 अगस्त को भारत छोडो आंदोलन के 75 वर्ष होने पर सभी जनपदों के हाईस्कूल-इण्टरमीडिएट के छात्र-छात्राओं से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वार्ता करेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार में आम आदमी की भागीदारी को बढ़ावा देने के लिये उनसे नियमित संवाद जरूरी है. समाज के सभी कर्णधारों के विचारों एवं सुझावों का लोकतंत्र की मजबूती में बड़ा योगदान है. इसके लिये जनपदों में ब्लॉक और तहसील स्तर पर स्थापित वीडियो कांफ्रेंसिंग नेटवर्क का उपयोग किया जायेगा.

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को भारी वर्षा की चेतावनी के बीच अलर्ट रहने को कहा. उन्होने कहा कि मौसम विभाग ने ‘टेक एक्शन‘ मोड में तैयार रहने को कहा है. किसी भी स्तर पर कोई लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी. लापरवाह कार्मिकों के खिलाफ एक्शन लेने में कोई कोताही न बरतें. उन्होने सभी सड़क मार्गो पर लगातार नजर रखने के निर्देश दिये. सड़को को खोलने और उनकी मरम्मत में कतई देरी न की जाय. लोगो को 24 घण्टों के भीतर मुआवजा दिया जाय. वर्षाजनित रोगों के लिये डीएम पूरी तैयारी रखें. चिकित्सक और औषधियां उपलब्ध रहें.