चलते-चलते दो भागों में बंटी दिल्ली-लखनऊ शताब्दी एक्सप्रेस, टला हादसा

दिल्ली-लखनऊ शताब्दी एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 13161) के कपलिंग टूटने से रेल के 6 डिब्बे अलग हो गए. बता दें कि कपलिंग के जरिए ही 6 डिब्बों को आपस मे जोड़ा गया. रेलवे के अधिकारी किसी भी तरह का हादसा होनो से इंकार कर रहे हैं.

दिल्ली-लखनऊ शताब्दी एक्सप्रेस बुधवार की सुबह दिल्ली से चली थी. शताब्दी एक्सप्रेस बुलंदशहर के खुर्जा जंक्शन और अलीगढ़ के बीज कमालपुर गांव में थी जब यह हादसा हुआ है. इस हादसे में किसी के हताहत होने की कोई खबर नही हैं. लेकिन कपलिंग टूटने की वजह से ट्रेन के 6 डिब्बे अलग हो गए. बताया जाता हैं कि कपलिंग को रिपेयर कर ट्रेन को लगभग 9 बजे लखनऊ के लिए रवाना कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि जिस समय यह हादसा हुआ उस समय ट्रेन की स्पीड 40 रही होगी. ट्रेन से 6 डिब्बे अलग होना एक बड़े हादसे का सबक हो सकता था, लेकिन जिस समय हादसा हुआ, उस समय ट्रेन स्पीड में नहीं थी.

दिल्ली-लखनऊ शताब्दी एक्सप्रेस के कपलिंग टूटने से रेल के 6 डिब्बे अलग हो गए. ट्रेन के डिब्बे अलग होनो से ट्रेन पटरी उतर सकती थी, जिससे कोई भी बड़ा हादसा हो सकता था. ट्रेन में सवार सैकड़ों लोगों की जान इस हादसे में जा सकती थी.

जानकारी के अनुसार, खुर्जा जंक्शन पर क्रॉस चेंज का काम चल रहा था. जिस वजह से ट्रेन को कपलिंग टूट गया और ट्रेन के 6 डिब्बे अलग हो गए. बताया जाता है कि ट्रेन की क्यूआर टीम ने ट्रेन का कपलिंग सही किया और लगभग 9 बजे लखनऊ के लिए रवाना कर दी गयी.