अफगानिस्तान: हेरात की शिया मस्जिद में आत्मघाती हमला, 29 की मौत

काबुल|…. मंगलवार रात अफगानिस्तान के हेरात में एक हमलावर ने मस्जिद में घुस रहे नमाजियों पर गोलीबारी की और विस्फोटकों से खुद को उड़ा दिया. इस विस्फोट में 29 लोगों की मौत हो गई और 63 से ज्यादा लोग जख्मी हैं. यह हमला ईरान के बॉर्डर से सटे इलाके में हुआ है. ये हमला तब हुआ है जब लोग बड़ी तादाद में नमाज के लिए जमा हुए थे.

हेरात से एक विधायक मेहदी हदीद ने बताया, मस्जिद के बाहर की स्थिति को देखकर वहां हुए भयानक नरसंहार के बारे में पता चल रहा है. उन्होंने कहा, कम से कम 100 लोगों के मौत की आशंका है. हालांकि हेरात के प्रमुख अस्पताल के डॉ. शेरजई ने 29 मौतों की पुष्टि की है.

हदीद ने कहा, यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि वहां कोई दूसरा हमलावर भी था. हालांकि, मौके पर मौजूद लोगों ने पहले आतंकवादी के खुद के उड़ाने के करीब 10 मिनट बाद दूसरे विस्फोट की भी आवाज सुनी. विस्फोट से मस्जिद बुरी तरह प्रभावित हुआ है. वहां की खिड़कियां जल गई हैं और मस्जिद को काफी नुकसान पहुंचा है. हर जगह लोगों के खून के निशान देखे जा सकते हैं.

हदीद ने बताया कि मस्जिद से अफगान नेशनल पुलिस स्टेशन की दूरी सिर्फ 50 मीटर है. लेकिन, हमले के तुरंत बाद पुलिस किसी भी तरह का एक्शन लेने से डर रही थी. इस दौरान वह मस्जिद के बाहर ही खड़ी रही. इससे वहां रहने वालों लोगों में काफी गुस्सा है. हेरात प्रांत के गवर्नर ने कहा, हमले के बाद वहां रहने वाले दर्जनों लोगों ने कानून को हाथ में ले लिया. इसमें ज्यादातर शिया मुसलमान थे. उऩ्होंने पुलिस स्टेशन पर हमला कर दिया. इस दौरान वहां जमकर पत्थर चलाए गए और आग लगा दी गई.