सोहराबुद्दीन एनकाउंटर : डीजी वंजारा, दिनेश एमएन आरोप मुक्त

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस में सीबीआई की विशेष अदालत ने मामले में आरोपी डीजी वंजारा और दिनेश एमएन को बरी कर दिया है. कोर्ट ने दोनों को सबूतों के अभाव में बरी किया है. जानकारी के अनुसार डिस्चार्ज एप्लीकेशन पर बहस के बाद कोर्ट ने सबूतों के अभाव में दोनों को आरोपों से मुक्त कर दिया.

दिनेश एमएन वर्तमान में राजस्थान एसओजी में आईजी के पद पर तैनात हैं. 2005 में हुए सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामले में सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में बताया था कि यह कोई एनकाउंटर नहीं बल्कि सोची-समझी साजिश के तहत कॉन्ट्रैक्ट मर्डर था.

गुजरात पुलिस ने दावा किया था कि उसका लश्कर से संबंध था. इस मामले में अप्रैल, 2007 में आरोपी बनाए गए गुजरात के पूर्व डीआईजी डीजी वंजारा और दिनेश एमएन के अलावा राजकुमार पंडियन को गिरफ्तार किया गया था. बाद में अदालत ने लंबी सुनवाई के बाद पंडियन को रिहा कर दिया था.

सोहराबुद्दीन केस में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत कई दूसरे नेताओं को भी आरोपी बनाया गया था. इन सभी को पहले ही बरी किया जा चुका है.