अल्मोड़ा हाईवे पर भूस्खलन में जिंदा दफन हुए जीजा-साले, चंपावत में बस पर गिरा बोल्डर

अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर अचानक पहाड़ी दरक जाने से भारी मलबा सड़क पर आ गिरा. मलबे की चपेट में आकर बाइक सवार दो युवक जिंदा दफन हो गए. रिश्ते में दोनों जीजा-साला बताए जा रहे हैं. उधर चम्पावत जिले में टनकपुर-पिथौरागढ़ हाईवे पर चलती बस पर विशाल बोल्डर आ गिरा. दुर्घटना में बस में सवार 15 यात्री बाल-बाल बचे.

अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर डेंजर जोन भौरियाबैंड के पास सोमवार दोपहर करीब 12 बजे अचानक भूस्खलन हो गया. इस दौरान वहां से गुजर रहे बाइक सवार पंकज सुयाल (29) पुत्र घनानंद निवासी बजैनिया, हल्द्वानी व रवि जोशी पुत्र उमेश निवासी कुंवरपुर, गौलापार हल्द्वानी मलबे की चपेट में आकर जिंदा दफन हो गए. घटना की वजह से अल्मोड़ा हाईवे पर आवागमन ठप हो गया. हादसे के तुरंत बाद स्थानीय लोग मलबा हटाने में जुट गए, मगर लगातार मलबा गिरते रहने से राहत कार्य में मुश्किल खड़ी हो गई.

सूचना के बाद मौके पर पहुंचे एनएच के कर्मियों ने पॉकलैंड मशीन से मलबा हटाया और दोनों के शव बाहर निकाले गए. चम्पावत जिले में टनकपुर-पिथौरागढ़ हाईवे पर संवेदनशील धौन के पास परिवहन निगम की चलती बस पर विशाल बोल्डर आ गिरा. बस में टनकपुर से बेरीनाग जा रहे 15 यात्री व ड्राइवर और कंडक्टर सवार थे. बोल्डर गिरने से बस का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया.

पिथौरागढ़ जिले में टनकपुर-तवाघाट हाईवे दो स्थानों पर मलबा आने बंद हो गया है. मंगलवार को मौसम विभाग की भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर पिथौरागढ़ में प्रशासन ने स्कूल-कॉलेज बंद रखने के निर्देश दिए हैं. बागेश्वर जिले में भी सड़कों पर भूस्खलन से पांच ग्रामीण मार्गों पर यातायात बंद हो गया है.