पूर्व शिक्षा मंत्री स्मृति ईरानी अब भी ग्रेजुएट नहीं, अमित शाह की संपत्ति 3 गुना बढ़ी

शैक्षणिक योग्यता को लेकर विवादों में रहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अभी तक स्नातक की पढ़ाई पूरी नहीं कर पाई हैं, जबकि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की संपत्ति पिछले पांच वर्षों में तीन गुना बढ़ी है. यह जानकारी दोनों ने गुजरात में राज्यसभा चुनावों के लिए अपने हलफनामे में दी है.

कांग्रेस से हाल में इस्तीफा देने वाले बलवंत सिंह राजपूत 315 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ तीनों उम्मीदवारों में सबसे धनी व्यक्ति हैं.

ईरानी ने अपने हलफनामे में स्पष्ट रूप से जिक्र किया है कि उन्होंने अभी तक स्नातक की पढ़ाई पूरी नहीं की है. 2014 के लोकसभा चुनावों के बाद उनकी शैक्षणिक योग्यता को लेकर विवाद पैदा हुआ था.

उन्होंने नवीनतम हलफनामे में कहा है, ‘बी. कॉम प्रथम वर्ष. तीन वर्षीय डिग्री पाठ्यक्रम पूरा नहीं किया है.’ 2014 के हलफनामे में उन्होंने इतना ही जिक्र किया था ‘बी. कॉम प्रथम वर्ष, स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (पत्राचार), दिल्ली विश्वविद्यालय, 1994.’ उन्होंने यह भी घोषित किया है कि अपने पति के साथ उनकी संपत्ति करीब सात करोड़ रुपये है.

शाह के हलफनामे के मुताबिक पत्नी सहित उनकी चल-अचल संपत्ति 34.40 करोड़ रुपये है जिसमें 10.38 करोड़ रुपये पैतृक संपत्ति है. विधानसभा चुनावों के लिए 2012 के हलफनामे में उन्होंने अपनी कुल संपत्ति करीब 11.15 करोड़ रुपये बताई थी. इससे लगता है कि पांच वर्षों में उनकी संपत्ति करीब तीन गुना बढ़ी है.

कांग्रेस उम्मीदवार अहमद पटेल ने अपने हलफनामे में बताया है कि उनकी संपत्ति करीब 6.50 करोड़ रुपये है, जिसमें उनकी पत्नी के नाम की संपत्ति भी शामिल है. पटेल ने 2011 में जो चल-अचल संपत्ति का ब्यौरा दिया था वह करीब तीन करोड़ 66 लाख रुपये था, जिससे स्पष्ट है कि उनकी संपत्ति दो गुना बढ़ी है.

राजपूत एवं उनके पत्नी की 2012 में कुल संपत्ति करीब 260 करोड़ रुपये थी, जब वह कांग्रेस में थे. गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों पर चुनाव आठ अगस्त को होना है, जिसके लिए भाजपा की तरफ से शाह, ईरानी और राजपूत उम्मीदवार हैं, जबकि कांग्रेस की तरफ से अहमद पटेल चुनाव मैदान में हैं.