ईडी ने 600 करोड़ के चिटफंड घोटाले में एजेंट को गिरफ्तार किया

चंडीगढ़/नई दिल्ली, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने फर्जी योजना चलाकर हजारों निवेशकों के 600 करोड़ रुपये की बेईमानी करने वाली चंडीगढ़ की यूनी पे ग्रुप के एक एजेंट को गिरफ्तार कर लिया है. एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. ईडी ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश के गाजीपुर और हरियाणा के गुरुग्राम, फरीदाबाद और अंबाला में छापेमारी की और शुक्रवार को कंपनी के एजेंट कमल के. बख्शी को गिरफ्तार कर लिया.

फरार चल रहे बख्शी को अपराधी घोषित किया जा चुका है. ईडी ने शनिवार को बख्शी को विशेष अदालत के समक्ष पेश किया, जहां उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.ईडी ने एक वक्तव्य जारी कर कहा, “अपनी जांच के दौरान हमने यूनी पे ग्रुप के दो एजेंटों – बख्शी और अरविंद कुमार सिंह – पर ध्यान केंद्रित किया और शुक्रवार को पांच अलग-अलग जगहों पर एकसाथ छापेमारी की. छापेमारी के दौरान कुछ अचल संपत्तियों के दस्तावेज, गहने, 4.18 करोड़ रुपये मूल्य तक की महंगी कारें जब्त की गई.”

एक ईडी अधिकारी ने बताया कि हजारों अनजान निवेशकों को भारी लाभ का लालच देकर उनके 600 करोड़ रुपये हड़प लिए गए. अधिकारी के अनुसार, बड़ी संख्या में निवेशकों को आकर्षित करने के लिए शुरू में निवेश करने वाले लोगों को भारी लाभ दिया गया.