ड्राइवर ने कोर्ट में किया खुलासा : इंद्राणी ने ही दबाया था शीना बोरा का गला

मुंबई, देश का चर्चित शीना बोरा केस में कई खुलासे सामने आ चुके है और जिसे सुनकर हर कोई हैरान है. इस हाई प्रोफाइल केस ने पुलिस को लंबे समय तक उलझाए रखा. वहीं शीना बोरा मर्डर केस के अहम गवाह और आरोपी ड्राइवर श्यामवर राय ने शुक्रवार को कोर्ट में खुलासा किया. उसने कहा कि इंद्राणी मुखर्जी ने ही शीना बोरा का गला दबाया था, इसके बाद वो शीना के चेहरे पर बैठ गई थी. बता दें कि इस मामले में श्यामवर के अलावा इंद्राणी मुखर्जी, उसका पति पीटर मुखर्जी और संजीव खन्ना आरोपी हैं. 2012 में मुंबई से 84 किलोमीटर दूर रायगढ़ के जंगलों में शीना की बॉडी मिली थी.श्यामवर ने कोर्ट में हुए क्रॉस एग्जामिनेशन के दौरान कहा, इंद्राणी मैडम अपने दोनों हाथों से शीना मैडम का गला दबा रही थीं. शीना के फेस पर बैठ गई और कहा इसने मेरा तीन बेडरूम का फ्लैट ले लिया. इंद्राणी ने ही माचिस निकाली और शीना की बॉडी को आग के हवाले किया.

राय ने कहा,‘इंद्राणी शीना बोरा के साथ ही मिखाइल की हत्या करना चाहती थी. इसी कारण से उसने मिखाइल को शराब पिलाई थी. इसके बावजूद मिखाइल बेहोश नहीं हुआ. जिसकी वजह से घटना वाले दिन संजीव ने उसे वहीं छोड़ देने को कहा. शायद इसी वजह से उस दिन मिखाइल बच गया. उसने अदालत में कहा,‘इस दिन जब मैं ऑफिस में अकेला था. उस दिन इंद्राणी ने मुझे स्काइप पर कहा कि मैं उनका बहुत ही भरोसेमंद आदमी है. इसलिए वह मुझे कुछ बताना चाहती है. इंद्राणी ने मुझे बताया कि शीना और मिखाइल मुझे अपनी मां बताकर मेरी छवि को खराब कर रहे हैं. पर मैं चिंता न करूं क्योंकि कोलकाता से एक व्यक्ति आ रहा है. जो शीना और मिखाइल दोनों की हत्या कर देगा. सरकारी गवाह बने राय ने अदालत को बताया कि इंद्राणी ने उसे 10 हजार रुपये की पगार पर ड्राइवर की नौकरी दी और उसके परिवार की पूरी जिम्मेदारी संभालने का लालच देकर शीना बोरा हत्याकांड में मदद करने के लिए राजी किया.

मुंबई पुलिस ने इंद्राणी मुखर्जी और उसके पति पीटर मुखर्जी को शीना बोरा हत्याकांड में 2015 में गिरफ्तार किया. जबकि शीना की हत्या 2012 में की गई थी. इस सनसनीखेज हत्याकांड का चश्मदीद गवाह और इंद्राणी के ड्राइवर ने सीबीआई अदालत को बताया कि 24 अप्रैल 2012 को पिछली सीट पर बैठी इंद्राणी ने बगल में बेटी शीना का अपने हाथों से गला दबाकर हत्या की. जब शीना के चेहरे पर बैठकर इंद्राणी उसका गला घोंट रही थी,तब उसने चिल्लाने की कोशिश की और रोई भी थी. परंतु कुछ पल बाद सब कुछ शांत हो गया. इसके दूसरे दिन जब शीना के शव को जलाने के लिए हम रायगढ़ के जंगल की ओर जा रहे थे, तब हम जब पेट्रोल खरीदने के लिए रूके, तो इंद्राणी ने शीना के होंठ पर लिपस्टिक लगाई और बाल संवारे. इसके बाद घने जंगल में इंद्राणी ने ही माचिस की तिली जलाई और शीना की बॉडी पर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी. गौरतलब है कि श्यामवर राय का सीबीआई कोर्ट में दिया गया. यह बयान काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि वह शीना बोरा हत्याकांड में शामिल था और पूरे घटनाक्रम का चश्मदीद गवाह भी है.

2002 में पीटर मुखर्जी और इंद्राणी की शादी हुई थी. पीटर स्टार इंडिया के सीईओ रहे हैं. उनकी पत्नी इंद्राणी आईएनएक्स मीडिया की सीईओ रही हैं. शीना इंद्राणी की पहली शादी से हुई बेटी थी. जबकि संजीव खन्ना इंद्राणी का दूसरा पति है. पीटर से शादी से पहले इंद्राणी और संजीव का तलाक हुआ था. इंद्राणी शीना को अपनी छोटी बहन बताती थी.