नीतीश मंत्रिमंडल का शपथग्रहण, 26 विधायक बने मंत्री

पटना, शनिवार को बिहार में बीजेपी के साथ मिलकर आसानी से बहुमत हासिल करने के बाद सीएम नीतीश कुमार मंत्रिमंडल का शपथग्रहण हुआ. नीतीश ने शुक्रवार को बिहार विधानसभा में बहुमत साबित किया था. एनडीए के पक्ष में 131 मत पड़े थे जबकि विपक्ष में 108 मत पड़े. बिहार के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने नए मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. जेडीयू, बीजेपी और एलजेपी के कुल 26 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली. बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मंगल पांडेय का भी शपथ लेने वालों में नाम था, लेकिन वह शपथ लेने नहीं पहुंच सके.

जेडीयू के वरिष्ठ नेता ललन सिंह, श्रवण कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली. जेडीयू की तरफ से जय कुमार सिंह, बिजेंद्र प्रसाद यादव, महेश्वर हजारी जैसे वरिष्ठ नेताओं ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली. ये सभी नेता सीएम नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाते रहे हैं. वहीं, बीजेपी के प्रेम कुमार, नंदकिशोर यादव जैसे दिग्गजों ने मंत्री पद की शपथ ली. प्रेम कुमार और नंदकिशोर यादव पहले भी नीतीश सरकार में मंत्री रह चुके हैं.

नीतीश कैबिनेट में इसबार केवल एक मुस्लिम विधायक ही मंत्री बना है. खुर्शीद उर्फ फिरोज ने मंत्री पद की शपथ ली. एक महिला विधायक को भी मंत्रिमंडल में जगह मिली है. जेडीयू की कुमारी मंजू वर्मा ने एकमात्र महिला के तौर पर नीतीश मंत्रिमंडल में शामिल हुईं. नीतीश के मंत्रिमंडल में सभी वर्गों का ख्याल रखा गया है.

जेडीयू की तरफ से कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, संतोष कुमार निराला, खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद और मदन सहनी का नाम भी मंत्रीपद की शपथ ली. बीजेपी की तरफ से विनोद नारायण झा, राणा रंधीर सिंह, और ब्रजकिशोर बिंद भी मंत्रिमंडल में शामिल हुए. गौरतलब है कि बिहार कैबिनेट में अधिकतम 35 मंत्री हो सकते हैं. बिहार विधानसभा में विधायकों की कुल संख्या 243 है.