गॉल टेस्ट : तीसरे दिन का खेल खत्म भारतीय टीम का स्‍कोर 189/3, कुल बढ़त 500 के करीब

गॉल|….  भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को गॉल अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन श्रीलंका की पहली पारी 291 पर समेट दी. श्रीलंका के नौ विकेट ही गिरे थे, क्योंकि मेजबान टीम के बल्लेबाज असेला गुणारत्ने अंगूठे में चोट के कारण सीरीज से बाहर हो गए. इसलिए, वह बल्लेबाजी करने मैदान पर नहीं उतरे. इस कारण श्रीलंका फॉलोऑन नही बचा पाई. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने श्रीलंका को फॉलोऑन न देकर दूसरी पारी खेलने का फैसला लिया है.

तीसरे दिन का खेल खत्‍म होने तक भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी में 3 विकेट खोकर 189 रन बना लिए थे. स्‍टंप्‍स के समय  कप्‍तान विराट कोहली 76 रन क्रीज पर थे. मैच में भारतीय टीम की कुल बढ़त 498 रन तक पहुंच गई है. ऐसे में यह तय है कि आखिरी पारी खेलते हुए मेजबान श्रीलंकाई टीम कल भारी दबाव में होगी.

भारत के लिए अब तक आउट होने वाले बल्‍लेबाज शिखर धवन (14), चेतेश्‍वर पुजारा (15) और अभिनव मुकुंद (81) रहे हैं. 46.3 ओवर में मुकुंद के आउट होते ही खेल समाप्‍त घोषित कर दिया गया. इससे पहले श्रीलंका टीम अपनी पहली पारी में 291 रन बनाकर आउट हुई थी. टीम के लिए दिलरुवान परेरा ने नाबाद 92, एंजेलो मैथ्‍यूज ने 83 और उपुल थरंगा ने 64 रन की पारी खेली, लेकिन अन्‍य बल्‍लेबाज नाकाम रहे. भारत के लिए रवींद्र जडेजा ने तीन और मोहम्‍मद शमी ने दो विकेट लिए.

शुक्रवार को पहले सत्र की समाप्ति तक श्रीलंका की टीम आठ विकेट गंवाकर केवल 289 रन ही बना पाई है थी. दूसरे सत्र की शुरुआत के बाद टीम के खाते में तीन रन ही जुड़ पाए थे कि जड़ेजा ने लाहिरू कुमारा (2) को आउट कर टीम की पारी 291 रनों पर समेट दी. श्रीलंका के लिए इस पारी में सबसे अधिक 92 रन बनाने वाले दिलरुवान परेरा ने 132 गेंदों पर 10 चौके और चार छक्के लगाए.

इससे पहले, अपने पहले दिन गुरुवार के स्कोर पांच विकेट पर 154 रनों से आगे खेलने उतरी श्रीलंका की टीम दिन के पहले सत्र के समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में 135 रन ही जोड़े थे.पहले दिन के नाबाद बल्लेबाज एंजेलो मैथ्यूज (83) और परेरा ने छठे विकेट के लिए 62 रनों की अर्धशतकीय पारी कर टीम का स्कोर 200 के पार पहुंचाया, लेकिन रवींद्र जड़ेजा ने मैथ्यूज को कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट कर श्रीलंका को दिन का पहला झटका दिया.

मैथ्यूज ने अपने पारी में खेली गईं 130 गेंदों पर 11 चौके और एक छक्का लगाया. उनके पवेलियन लौटने के बाद परेरा के साथ टीम की पारी आगे बढ़ाने उतरे कप्तान रंगना हैराथ केवल 9 रन ही बना पाए थे कि वह भी जड़ेजा की गेंद पर अजिंक्य रहाणे के हाथों लपके गए. हैराथ के पवेलियन लौटने के बाद एक छोर पर श्रीलंका की पारी को संभाले हुए परेरा का साथ देने आए नुवान प्रदीप (10) को हार्दिक पांड्या ने विकेट पर टिकने का मौका भी नहीं दिया और बोल्ड कर मेजबान टीम का आठवां विकेट भी गिरा दिया.

इसके बाद परेरा और कुमारा ने भोजनकाल तक बिना कोई और विकेट गंवाए टीम का स्कोर 289 तक पहुंचाया था. हालांकि, दूसरे सत्र में कुमारा के आउट होने के साथ ही श्रीलंका की पहली पारी भी समाप्त हो गई. भारत के लिए जड़ेजा ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए, वहीं मोहम्मद समी ने दो विकेट चटकाए. इसके अलावा, उमेश यादव, पांड्या और रविचंद्रन अश्विन को एक-एक सफलता हासिल हुई. श्रीलंका के खिलाड़ी उपुल थारंगा रन आउट हुए थे.