रेलवे के खाने में मिली छिपकली

रेलवे में घटिया खाने को लेकर कैग की रिपोर्ट को आए हुए अभी एक हफ्ता भी नहीं गुजरा था कि ट्रेनों में पेंट्री कार के भोजन में शिकायतों का नया सिलसिला शुरू हो गया है. बुधवार को 12303 पूर्वा एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की बिरयानी में छिपकली मिली. यात्रियों ने इसकी शिकायत कोच अटेंडेंट और टीटी से की.

रिपोर्ट के मुताबिक, सुनवाई न होता देख यात्री ने रेल मंत्री और रेल मंत्रालय को भी ट्विटर पर शिकायत की. बताया जा रहा है कि खाना खाने के बाद यात्री की तबीयत बिगड़ने लगी. खाने को चेक किया तो उसमें मरी छिपकली थी. तबियत बिगड़ने पर यात्री को कोई सहायता नहीं दी गई. आरोप है कि पटना जीआरपी ने यात्री का खाना लेकर ट्रेन के बाहर फेंक दिया. हालांकि ट्विटर पर शिकायत का संज्ञान लेकर मुगलसराय स्टेशन पर यात्रियों को दवा दी गई. इसके बाद ट्रेन आगे रवाना हुई.

इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता संतोष सिंह ने बताया, अधिवक्ताओं का एक ग्रुप झारखंड के देवघर स्थित बाबा बैजनाथ धाम के दर्शन के लिए गया था. ये लोग बाबा बैजनाथ के दर्शन कर 12303 अप पूर्वा एक्सप्रेस से देवघर से इलाहाबाद लौट रहे थे. मोकामा स्टेशन के पास इन्होंने चलती ट्रेन में पेंट्री कार में वेज बिरयानी का आर्डर दिया. पैंट्री कार द्वारा दिए गए खाने को अधिवक्ता लोग जब खाना खा रहे थे तभी एक डब्बे में मरी हुई छिपकली निकली. ट्रेन जब पटना स्टेशन पहुंची तो यात्रियों ने इस मामले की शिकायत की, लेकिन उस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया. इस दौरान एक व्यक्ति की तबीयत भी खराब हो गई.