देहरादून : शौर्य दिवस के अवसर पर सीएम ने दी कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि

शौर्य दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को गांधी पार्क में कारगिल शहीद स्मारक पर शहीदों को पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी. उन्होंने कहा कि कारगिल का युद्ध सामरिक दृष्टि से विषम परस्थितियों में लड़ा गया. जिसमें भारत के वीर सैनिकों ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए 26 जुलाई 1999 को कारगिल पर विजय प्राप्त कर दुनिया में भारतीय सैन्य शक्ति का परचम लहराया. उन्होंने कहा कि द्रास, टाईगर हिल, बटालिक में शत्रुओं ने छद्म रूप से घुसकर भारतीय सेना पर वार करना शुरू कर दिया. लेकिन हमारे सैनिकों ने विपरीत परिस्थितियों में भी पूरे पराक्रम एवं साहस के साथ सुनियोजित तरीके से दुश्मनों को खदेड़ा. मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि कारगिल युद्ध में हमारे 500 वीर सपूत वीरगति को प्राप्त हुए लेकिन हमारी सेना ने प्रत्येक जवान के एक-एक बूंद खून का बदला दुश्मनों से लिया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने वीर सैनिकों, सैनिक परिवारों से जुड़े एवं वीरांगनाओं को नमन करते हुए कहा कि हमारे सैनिकों की वीरता देश के सम्मान का परिचायक है. राज्य सरकार वीर सपूतों की शहादत का सम्मान करती है. सैनिकों एवं उनके परिवारों के कल्याण के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है. शौर्य दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने पूर्व सैनिकों एवं सैन्य परिवारों के आश्रितों को सम्मानित किया.शौर्य दिवस के अवसर पर विधायक श्री गणेश जोशी, विधायक श्री खजान दास, मेयर श्री मनोज गर्ग, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय भट्ट, निदेशक सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर के.बी.चन्द, जिलाधिकारी श्री एस.ए. मुरूगेशन, एस.एस.पी. निवेदिता कुकरेती, सैन्य अधिकारी एवं सैन्य परिवार के लोग उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध लोक गायक श्री हीरा सिंह राणा के परिजनों से फोन पर बात कर उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी प्राप्त की. मुख्यमंत्री ने श्री राणा के परिजनों को सम्भव मदद का आश्वासन दिया. उन्होंने श्री राणा के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की ईश्वर से कामना की है.