Vodafone-Idea को मिली विलय की मंजूरी, बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी

मंगलवार को प्रतिस्पर्धा आयोग सीसीआई ने वोडाफोन इंडिया तथा आइडिया सेल्यूलर के बीच विलय को मंजूरी दे दी. सौदे से जुड़ी कानूनी सलाहकार फर्म ने यह जानकारी दी. इस सौदे को मंजूरी मिलने से देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी अस्तित्व में आएगी.शार्दुल अमरचंद मंगलदास एंड कंपनी ने कहा कि नियामक ने वोडाफोन इंडिया तथा उसकी पूर्ण अनुषंगी वोडाफोन मोबाइल सर्वसिेज का आइडिया सेल्यूलर के साथ विलय को बिना शर्त मंजूरी दे दी है.वोडाफोन की नई कंपनी में 45% हिस्सा होगा, जबकि नई कंपनी में आइडिया की 26% की हिस्सेदारी मिलेगी.

इस विलय से देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बनेगी. साथ ही वोडाफोन इंडिया को पकड़ बनाने में भी मदद मिलेगी. इसके अलावा आइडिया की मेट्रो शहरों में पहुंच बढ़ेगी. नई कंपनी में 25-30% का इजाफा होगा. नई कंपनी में कंज्यूमर्स की संख्या बढ़कर 39.1 करोड़ हो जाएगी. साथ ही इस मर्जर से करीब 80 हजार करोड़ का रेवेन्यू जेनरेट होगा. दोनों कंपनियों के मिलाकर करीब 38 करोड़ कस्टमर्स होने की उम्मीद की जा रही है.

बता दें कि हाल ही में Vodafone ने अपने कस्टमर्स के लिए 244 रुपए का फर्स्ट रीचार्ज कूपन (FRC) लॉन्च किया है. इसमें प्रीपेड कस्टमर्स को अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग (होम नेटवर्क लोकल + एसटीडी) और 70GB डेटा दिया जाएगा. बता दें कि इसमें 70 दिनों तक डेली 1GB 3G/4G डेटा दिया जाएगा.