थाने में बने रंजिश रजिस्ट्रर : डीआईजी गढ़वाल रेंज

देहरादून, गढ़वाल रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक पुष्पक ज्योति ने गढ़वाल रेंज के सभी जनपद प्रभारियों की बैठक ली, बैठक में कई बिन्दुओं पर गहन चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिये गये.डीआईजी ने बैठक के दौरान कहा कि आपसी रंजिशन के चलते दो पक्षों में विवाद की घटनायें बढ़ रही है, खासकर जनपद हरिद्वार में आये दिन इस प्रकार की घटना घटित हो रही है. प्रत्येक जनपद प्रभारी अपने-अपने थाने स्तर पर रजिंश रजिस्ट्रर बनाने के निर्देश दिये, साथ ही इस प्रकार की घटना घटित होने पर तत्काल उच्च-अधिकारियों को सूचित कर प्रयाप्त निरोधात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये.

प्राय पहले भी मेरे द्वारा निर्देश दिये गये कि नदी, घटों के किनारे खासकर युवा वर्ग द्वारा जान जोखिम में डालकरृ स्नान करने या मोबाइल से सेल्फी लेते समय, कई लोगों की मृत्यु हो रही है. इस गम्भीरता से लेते हुये सभी जनपद प्रभारियों को अपने-अपने जनपदों में प्रत्येक थाना स्तर पर सेल्फी को लेकर डेंजर जोन से सम्बन्धित साइन बोर्ड लगाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये. सडकों के किनारे फुटपाथ पर कोई भी रेड़ी, फड़ लगाने वाले व समान बेचने वालों द्वारा कब्जा कर लिया जाता है, फुटपाथ को खाली रखने के लिए अवैध रूप से कब्जा करने वालों के विरुद्ध नियामनुसार वैधानिक कार्रवाई की जाये ताकि पैदल चलने वालों को कोई भी परेशानी का सामना न करना पड़े तथा यातायात बाधित न हो.

उन्होंनें साइबर फ्राड की घटना घटित होने पर पीड़ित पक्ष द्वारा शिकायत करने तत्काल मुकदमा कायम कर साईबर एक्सपर्ट की टीम गठित कर कार्यवाई करने के निर्देश दिये गये. सभी जनपद प्रभारियों को निर्देश दिये गये कि समय-समय पर अभियान के तहत नशे व ड्रग्स के खिलाफ कार्रवाही करने के निर्देश दिये गये. तथा नशे के खिलाफ की गयी कार्रवाही से बरामद ड्राग्स की सूचना को मेरे कार्यालय को भी उपलब्ध करायी जाये. अवैध खनन के मामलों में कार्रवाही हर सम्भव जीरो टॉलरेंस रहे, यदि किसी पुलिस अधिकारी व कर्मचारी की संलिप्ता पायी जाती है, तो सम्बन्धित के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिये. हत्या के अपराधों में वैज्ञानिक उपकरणों के माध्यम से ठोस साक्ष्य संकलित कर तत्वरित विवेचानात्मक कार्यवाई के साथ ही ऐसे प्रकरणों जो अज्ञात में पजींकृत होते है, उनका तत्काल खुलासा करने के निर्देश दिये. डकैती, लूट, चोरी एवं नकबजनी के अपराधों में अभियुक्तों की गिरफ्तारी तथा लूटे व चोरी किए गये माल की शत-प्रतिशत बरामदगी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये.

साम्प्रदायिक सौहार्द्र बनाये रखने के लिए सभी जनपद प्रभारी अपने-अपने जनपदों में गोष्ठी आयोजित करेंगे, जिसमें सभी सम्प्रदायों के व्यक्तियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी. गोष्ठी में गौरक्षा से सम्बन्धित प्रकरणों के सम्बन्ध में अपील कर साम्प्रदायिक सौहार्द्र बनाये रखने के लिए विचार-विमर्श करने के निर्देश दिये गये. वर्तमान में बरसात का सीजन चल रहा है, मौसम विभाग द्वारा समय-समय पर मौसम से संबंधित एलर्ट जारी किया जा रहा है, इसके लिये आवश्यक है,कि अपने-अपने जनपदों में उपलब्ध पुलिस बल, पीएसी, एसडीआरएफ, फायर सर्विस कर्मियों को सजग व सतर्क रखने के निर्देश दिये गये. गोष्ठी में निवेदिता कुकरेती कुमार एसएसपी देहरादून, कृष्णकुमार वीके एसएसपी हरिद्वार, विमला गुंज्याल एसएसपी टिहरी, जगतराम जोशी एसएसपी पौडी, प्रहलाद नारायण मीना एसपी रुद्रप्रयाग, तृप्ति भट्ट एसपी चमोली व मनीषा नेगी मीडिया प्रभारी एवं रेंज स्तर के समस्त अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे.