रामनगर : दो नंबरों से चल रही स्कूल बस सीज

रामनगर, संभागीय परिवहन विभाग ने स्कूटर का नंबर लगा कर चल रही स्कूल बस पर कार्रवाई करते हुए बस को कब्जे में ले लिया. प्रारम्भिक जांच के दौरान बस में आगे पीछे अलग अलग नम्बर दर्ज मिले. जिस पर वाहन स्वामी द्वारा इसे पेंटर की गलती बताया गया. कागजों की जांच के लिए बस को कब्जे में लेकर एआरटीओ कार्यालय रामनगर में खड़ा कर दिया गया है.बता दें कि गुरुवार को नो पार्किंग में खड़ी स्कूल बसों पर एआरटीओ विमल पांडेय ने चस्पा चालान की कार्यवाही की थी. जिसमें तीन स्कूल बसों का चस्पा चालान किया गया था.

जिसमें शनिवार को जांच के दौरान आर्मी स्कूल की जिस बस का चालान किया गया. उस बस में दर्ज पंजीकरण संख्या स्कूटर की होने से विभाग में हलचल मच गई. जिसके बाद वाहन स्वामी परवेज कार्यालय पहुंच गया, जिसके बाद बस एआरटीओ कार्यालय लाने को कहा गया, तो बस के एआरटीओ दफ्तर में पहुंचने पर बस में दो नम्बर दर्ज मिले. जिसमें आगे की प्लेट में अलग और पीछे का नम्बर अलग पाया गया. जिस पर बस स्वामी ने कहा कि उसने नीलामी में पांच बसे खरीदी थी. जिस पर पेंट कराते समय यह गलती हुई होगी. बताया जा रहा है कि बस स्वामी कई बसों का मालिक हैं और इसे एक भूल कहे या और बसों में भी कही डग्गामारी तो नहीं, ये बात गले नहीं उतर रही है.

आखिर वाहन स्वामी या ड्राइवर ने क्या कभी अपनी गाड़ी के नंबर पर ध्यान नहीं दिया होगा या फिर जानबूझ कर ये आलम था यह बस नेशनल हाइवे 121 पर खड़ी रहती थी जिसका अधिकांश हिस्सा सड़क पर रहता यदि कोई बड़ा हादसा होता तो उसका जिम्मेदार आखिर कौन होता. हालांकि बस का चेसिस नम्बर जांचने पर बस के पीछे की तरफ दर्ज नंबर सही पाया गया. एआरटीओ विमल पांडेय ने बताया कि बस के दस्तावेजों की जांच पूरी होने तक बस उनके कब्जे में रहेगी. और बस में दो नम्बर लगाकर चलाने पर कार्रवाई कर जुर्माना लगाया जाएगा.