‘पोस्टर वार’ तक पहुंची महागठबंधन में जारी जुबानी जंग, JDU प्रवक्ताओं पर साधा गया निशाना

बिहार में सत्ताधारी महागठबंधन में शामिल दलों के बीच जारी जुबानी जंग के बाद अब ‘पोस्टर वार’ शुरू हो गया है. पटना में शनिवार को पोस्टर-बैनर लगाकर जनता दल युनाइटेड के प्रवक्ताओं पर निशाना साधा गया है. हालांकि, पोस्टर किसकी तरफ से लगाया गया है, इसका जिक्र पोस्टर में नहीं किया गया है.

बिहार विधानमंडल परिसर के बाहर शनिवार को पोस्टर और बैनर लगाए गए हैं, जिसमें जेडीयू के चार प्रवक्ताओं की तस्वीर लगाते हुए उनके ऊपर निशाना साधा गया है. माना जा रहा है कि उक्त पोस्टर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के समर्थकों द्वारा लगाया गया है.

पोस्टर-बैनर में जेडीयू के प्रवक्ता संजय सिंह, नीरज कुमार, श्याम रजक और अजय आलोक की तस्वीर है. इसमें लिखा गया है, ‘जेडीयू के प्रवक्ता अनाप-शनाप बयान दे रहे हैं.’ बैनर में आगे लिखा गया है, ‘नीतीश जी ने मना किया है उसके बावजूद ये लोग बाज नहीं आ रहे हैं. यह सब सुशील मोदी के इशारे पर हो रहा है.’

इधर, बैनर-पोस्टर लगाए जाने पर प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा, ‘मैं पार्टी का प्रवक्ता हूं और इसी हैसियत से पार्टी की बात सबके सामने रखता हूं. पोस्टर लगाने भर से आवाज बंद नहीं होगी. पार्टी जो जवाब मांग रही है, वह देना होगा. ऐसे पोस्टर लगाए जाने से उनको सच बोलने से नहीं रोका जा सकता है.’

इधर, आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने पार्टी द्वारा ऐसे किसी भी पोस्टर को लगाए जाने की बात का खंडन करते हुए कहा कि उन्होंने तो ऐसे पोस्टर देखे भी नहीं हैं. वे तो अपने दूसरे कार्यों में व्यस्त हैं.

बता दें कि सीबीआई द्वारा उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार की एक प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद जेडीयू ने तेजस्वी से जनता के सामने आरोपों पर तथ्यों के साथ सफाई देने की मांग रखी है. इसे लेकर दोनों दलों के नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है.