अब फेसबुक पर ख़बर पढने के लिए देने होंगे पैसे

US मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक पर फ्री में पढ़े जाने वाले आर्टिकल की लिमिट सेट करने के लिए फेसबुक जल्द ही टेस्टिंग करने वाला है. इससे फेसबुक एक तय लिमिट के बाद न्यूज पढ़ने वालों से ज्यादा खबरें पढ़ने के लिए पैसे लेगा. आजकल न्यूज का सबसे बड़ा जरिया बन चुके फेसबुक के पास पब्लिशर्स और मीडिया समूहों की शिकायत आ रही है कि जब उनकी स्टोरीज को फेसबुक पर फ्री में शेयर किया जाता है तो इससे उन्हें रेवेन्यू का भारी नुकसान होता है.

द स्ट्रीट अखबार के अनुसार फेसबुक एक पे वॉल पर काम कर रहा है, जिसकी मदद से जिनके साथ फेसबुक का अग्रीमेंट होगा वही पोस्ट कर पाएगा. यह सर्विस दो साल पहले गूगल के AMP को टक्कर देने के लिए शुरू की गई थी. गूगल AMP चुनिंदा मीडिया समूहों की खबरों को मोबाइल वेब ब्राउजिंग के लिए ऑप्टिमाइज करता है.

द स्ट्रीट के अनुसार फेसबुक के न्यूज पार्टनरशिप के हेड कैंपबेल ब्राउन ने न्यू यॉर्क में एक डिजिटल पब्लिशिंग कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘सोशल नेटवर्क पब्लिशर्स की इस समस्या पर काम कर रहा है.’ अक्टूबर में फेसबुक इस फीचर की टेस्टिंग शुरू करेगा, जिसमें फेसबुक पर फ्री में पढ़ी जाने वाली स्टोरीज की संख्या को 10 तक लिमिट किया जाएगा. 10 की संख्या के बाद फेसबुक रीडर्स को पब्लिशर्स के होम पेज पर भेजेगा और उनसे सब्सक्रिप्शन के लिए कहा जाएगा. हालांकि फेसबुक की तरफ से इसको लेकर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.