साइबर अटैक से देहरादून में खलबली, SBI के दो ATM सील | लाखों ले उड़े शातिर, 66 FIR

साइबर क्रिमिनल्स एटीएम में स्कीमर डिवाइस लगाकर चुराए गए डाटा से कई खाताधारकों की खून-पसीने की कमाई ले उड़े हैं. स्कीमिंग की पुष्टि होने के बाद सोमवार को अस्थायी राजधानी देहरादून में एसबीआई के दो एटीएम सील कर दिए गए.

कई अन्य एटीएम में भी ट्रांजेक्शन बंद होने की खबर है. फ्रॉड के तार कई राज्यों से जुड़े होने के कारण पुलिस महानिदेशक एमए गणपति ने एसटीएफ को जांच की कमान सौंप दी है. पुलिस और एसटीएफ की संयुक्त टीमों ने देहरादून, जयपुर और दिल्ली में एटीएम की जांच की है.

वहीं, सोमवार देर रात तक खाते से रुपये निकाले जाने की 66 एफआईआर दर्ज हो चुकी थी, जबकि शिकायतों का आंकड़ा 78 पहुंच गया है. सभी मामलों में आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है. एटीएम की सीसीटीवी फुटेज में एक संदिग्ध का चेहरा भी दिखा है. वहीं, डीजीपी ने मामले में महत्वपूर्ण सुराग मिलने का दावा किया है.

बैंक खातों से लाखों की रकम उड़ाने के मामले में तीन दिन की भागदौड़ के बाद पुलिस इस नतीजे पर पहुंची है कि यह वारदात एटीएम में स्कीमर डिवाइस लगाकर अंजाम दी गई है.

डाटा चुराने के बाद डुप्लीकेट एटीएम कार्ड बनाकर रकम निकाली गई है. पुलिस के साथ एसबीआई की एक्सपर्ट टीम भी सोमवार सुबह सक्रिय हो गई. खासतौर से नेहरू कॉलोनी के एसबीआई एटीएम की बारीकी से जांच की गई.

एटीएम मशीन पर एम-सील चिपकी मिली तो पूरा माजरा समझ में आ गया. राजीव नगर और मोथरोवाला के एटीएम को तत्काल बंद कर दिया गया. नेहरू कॉलोनी थाना के इंस्पेक्टर राजेश शाह ने देर रात इसकी पुष्टि की है.

कई अन्य में ट्रांजेक्शन पर रोक लगा दी गई है. इधर, पुलिस महानिदेशक एमए गणपति ने सोमवार को पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप को जांच की कमान सौंप दी. साइबर सेल और दून पुलिस भी इसमें शामिल रहेगी.

उन्होंने कहा कि कई राज्यों से जुड़ा मामला होने के कारण एसटीएफ इससे बेहतर लीड कर सकती है. अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था राम सिंह मीणा, आईजी दीपम सेठ, एसटीएफ एसएसपी रिधिम अग्रवाल, एसएसपी निवेदिता कुकरेती, एसआईटी प्रभारी योगेश सिंह और नेहरू कॉलोनी इंस्पेक्टर राजेश शाह मौजूद रहे.

शहर के विभिन्न थानों में सोमवार देर रात 66 मामलों में एफआईआर दर्ज हो चुकी थी, जबकि शिकायतों का आंकड़ा 78 तक पहुंच गया. अकेले नेहरू कॉलोनी थाने में 55 शिकायतें आई हैं.

इन खातों से करीब 13 लाख 58 हजार रुपये निकाले गए हैं. थाने में दिन रात मुकदमे दर्ज होने का काम चल रहा है. रायपुर थाने में यह संख्या 11 पहुंच गई है. शहर कोतवाली में आठ, डालनवाला में तीन और पटेलनगर थाने में एक मुकदमा दर्ज हुआ है. दो अन्य शिकायतें आने की खबर है.