अमरनाथ यात्रियों की बस खाई में गिरी, 16 मरे, 26 घायल

फाइल फोटो

जम्मू-कश्मीर में रामबन जिले के बनिहाल कस्बे में रविवार को अमरनाथ यात्रा पर जा रही एक बस खाई में गिरने से 16 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई और 26 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हादसे पर शोक जताया है.जम्मू एवं कश्मीर राज्य सड़क परिवहन की बस जम्मू से कश्मीर घाटी की ओर जा रही थी. इसी दौरान जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर बनिहाल में नचनाला के पास चालक ने बस पर से नियंत्रण खो दिया और यह खाई में जा गिरी.

 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “इस हादसे में 16 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गई और 26 अन्य घायल हो गए. मरने वालों में 14 पुरुष और दो महिलाएं शामिल है”. गंभीर रूप से घायल श्रद्धालुओं में से पांच को श्रीनगर ले जाया गया, 19 अन्य को सेना के हेलीकॉप्टर से जम्मू के गवर्मेट मेडिकल कॉलेज सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल लाया गया. दो का इलाज बनिहाल के अस्पताल में हो रहा है.

 

अधिकारी ने कहा कि बस में चालक समेत कुल 43 यात्री सवार थे.दुर्घटना स्थल पर स्थानीय निवासियों के साथ सेना, पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवान राहत एवं बचाव कार्य में जुटे हैं.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बस दुर्घटना में 16 अमरनाथ यात्रियों की मौत पर शोक जताया है.

 

मोदी ने ट्वीट किया, “जम्मू एवं कश्मीर में बस हादसे में अमरनाथ यात्रियों की मौत से बेहद तकलीफ हुई है. मेरी प्रार्थनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. बस हादसे में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहा हूं.”केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने हादसे पर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से बात की है. महबूबा ने उन्हें बचाव अभियान की जानकारी दी.

 

उन्होंने कहा, “बस हादसे में अपनों की जान गंवाने वाले अमरनाथ तीर्थयात्रियों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना है. मेरी दुआएं घायलों के साथ हैं.”इस साल अमरनाथ यात्रियों के साथ यह दूसरी दुखद घटना है. इससे पहले 10 जुलाई को आतंकवादियों ने बस पर हमला कर दिया था जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई थी.अमरनाथ गुफा जम्मू एवं कश्मीर के अनंननाग जिले में समुद्र तल से 3,800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है.