‘फिक्स था 2011 में खेला गया क्रिकेट विश्व कप’

क्रिकेट विश्व कप 2011

श्री लंकाई टीम के पूर्व कप्तान अर्जुन राणातुंगा के ताजा बयान ने क्रिकेट जगत में खलबली मचा दी है. राणातुंगा ने 2011 क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल मैच की जांच करवाने की मांग की है. भारत और श्री लंका के बीच खेले गए इस मुकाबले में मैच फिक्सिंग का आरोप लगाते हुए इस राणातुंगा इसकी जांच करवाना चाहते हैं. 53 वर्षीय राणातुंगा ने अपने फेसबुक पेज पर सिंहली भाषा में एक विडियो पोस्ट किया है. इस विडियो में राणातुंगा ने कहा है कि वह वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में श्री लंका की छह विकेट से हार पर वह बेहद हैरान थे.

उन्होंने कहा, ‘मैं उस समय भारत में कॉमेंट्री कर रहा था. जब हम हारे तो मुझे दुख हुआ और कुछ शक भी.’ 1996 विश्व कप विजेता श्री लंकाई टीम के कप्तान ने कहा कि हमें इसकी जांच करनी चाहिए कि आखिर 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में श्री लंका की टीम को क्या हो गया था. उन्होंने कहा, ‘मैं सभी खुलासे अभी नहीं कर सकता पर एक दिन मैं इससे पर्दा जरूर उठाऊंगा. इसकी जांच जरूर होनी चाहिए. ‘

बिना किसी का नाम लिए राणातुंगा ने कहा कि खिलाड़ियों को इस ‘मैल’ को नहीं छुपाना चाहिए. श्री लंका ने उस फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 274/6 का स्कोर बनाया था. इसके बाद उसने सचिन तेंडुलकर और वीरेंदर सहवाग को जल्दी आउट कर मैच पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली थी. इसके बाद भारत ने मैच अपने पक्ष में कर लिया. इसमें श्री लंका की खराब गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण ने अहम भूमिका निभाई. भारत ने सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (97) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 91) की बेहतरीन पारियों की मदद से हासिल कर लिया था. भारत ने मैच छह विकेट से जीता था और विश्व विजेता बना था.