योगी सरकार ने पेश किया अपना पहला बजट, सपा सरकार की 13 योजनाओं को किया बंद

लखनऊ, 4 महीने पहले बनी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपना पहला बजट पेश किया. योगी सरकार का कुल बजट 3.84 लाख करोड़ का है. इस बजट में उन्होंने 55 हजार 781 करोड़ रुपए की नई योजनाएं भी पेश की है. इसके साथ ही उन्होंने पहले रही अखिलेश सरकार की टॉप 13 योजनाओं को बंद कर दिया है. इन योजनाओं पर योगी सरकार द्वारा कोई भी बजट आवंटित नहीं किया गया है.

जानकारी के अनुसार इस बारे में नेता प्रतिपक्ष राम गोविन्द चौधरी ने बताया कि यह बजट दिशाहीन, दलित, किसान और व्यापारी विरोधी है. अखिलेश सरकार की योजनाएं बंद करके योगी सरकार ने साबित किया है कि वह विकास विरोधी है, क्योंकि ये योजना प्रदेश के विकास और गरीबों के लिए थी.

सपा सरकार इन 13 योजनाओं को नहीं मिली जगह:

– समाजवादी किसान एवं सर्वहित बीमा योजना जिसके लिए अखिलेश ने 897 करोड़ दिए थे.
– यश भारती अवार्ड के तहत अखिलेश ने 25 अवार्ड पाने वालों को 11-11 लाख पेंशन देने का एेलान किया था.
– कृषक दुर्घटना बीमा योजना के लिए अखिलेश ने 240 करोड़ दिए थे.
– भूमि सेना योजना के लिए अखिलेश ने 83 करोड़ रुपए दिए.
– लोहिया ग्रामीण आवास योजना के लिए अखिलेश ने 1,779 करोड़ दिए.
– इंदिरा आवास योजना के लिए अखिलेश ने 3162 करोड़ दिए थे.
– आई स्पर्श योजना के लिए अखिलेश ने 300 करोड़ रूपए दिए थे.
– डॉ. राम मनोहर लोहिया सामूहिक नलकूप योजना के लिए अखिलेश ने 7 करोड़ रुपए दिए.
– फ्री लैपटॉप योजना के लिए अखिलेश ने 100 करोड़ दिए थे.
– इनोवेशन सेल, इनोवेशन पुरस्कार और स्टेट इनोवेशन फंड योजना के लिए अखिलेश ने 10 करोड़ रुपए दिए थे.
– समाजवादी पेंशन योजना के लिए अखिलेश ने 3327 करोड़ रुपए दिए.
– कब्रिस्तान की चारदिवारी बनाने की योजना के लिए अखिलेश ने 400 करोड़ रुपए दिए.
– समाजवादी स्वास्थय बीमा योजना के लिए अखिलेश ने 20 करोड़ रुपए दिए थे.