वीडियो : अस्पताल से घर पहुंचे नेगी दा, YouTube के जरिए प्रशंसकों को धन्यवाद कहा

डॉक्टरों की मेहनत, लाखों प्रशंसकों की दुआ और गढ़ सम्राट नरेंद्र सिंह नेगी का हौसला. जब यह तीनों मिले तो उत्तराखंड के सुप्रसिद्ध गायक दिल की बीमारी को मात देकर घर लौट आए. 10 दिन के इलाज के बाद लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी जिंदगी की जंग जीतकर देहरादून स्थित मैक्स अस्पताल से घर लौट आए हैं.

रविवार को यूट्यूब के जरिये नेगीदा ने अपने चाहने वालों का धन्‍यवाद दिया. उन्होंने कहा, अभी मुझे लंबी बीमारी से मुक्ति मिली है. उन्‍होंने कहा कि इस अटैक में त्रिवेंद्र सरकार ने बहुत सहयोग दिया. साथ ही उन्‍होंने अस्‍पताल के डॉक्‍टरों को भी धन्‍यवाद दिया, जिन्‍होंने उनके प्राणों की रक्षा की. नेगीदा ने कहा कि इस अटैक से सबक लेना चाहिए. सभी को समय-समय पर अपना चेकअप कराना चाहिए.

पिछले महीने 29 जून को हार्ट अटैक के बाद लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी को सीएमआइ में भर्ती कराया गया था. हालत नाजुक होने के कारण उन्हें मैक्स अस्पताल रेफर कर दिया गया. शनिवार सुबह डॉक्टरों ने उनकी रुटीन जांच की और दोपहर में डिस्चार्ज कर दिया. डॉक्टरों ने उन्हें एक हफ्ते बाद फिर से जांच के लिए अस्पताल बुलाया है. बताया गया कि सुबह रुटीन जांच के बाद ही डॉक्टरों ने उन्हें डिस्चार्ज करने का निर्णय ले लिया था. हालांकि, अस्पताल प्रशासन ने उनकी पत्नी ऊषा और बेटे कविलास को इसकी सूचना दोपहर में ही.

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद बेटा कविलास और पत्नी ऊषा दोपहर करीब तीन बजे लोक गायक नेगी को घर वापस लाए. कविलास ने बताया कि अस्पताल प्रशासन ने पिताजी की सेहत पर ध्यान देने को कहा है. इलाज के बिल आदि के बारे में अभी तक उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है.

नरेंद्र सिंह नेगी के घर पहुंचने के कुछ वक्त बाद ही वहां आसपास के लोगों और रिश्तेदारों का तांता लग गया. अस्पताल से डिस्चार्ज होने के करीब एक घंटे बाद नरेंद्र सिंह नेगी के फेसबुक पेज पर उनके घर पहुंचने की पोस्ट डाल दी गई थी. जिसके बाद शुभचिंतक व रिश्तेदार उनके घर पहुंचने लगे.

अस्पताल प्रशासन इलाज के दौरान नेगी के बारे में हर अपडेट देता रहा, लेकिन डिस्चार्ज की सूचना अस्पताल प्रशासन ने किसी को नहीं दी. क्योंकि, अस्पताल प्रशासन को इस बात की आशंका थी कि सूचना मिलने पर उनके प्रशंसक अस्पताल पहुंच सकते हैं. जिससे स्थिति बिगड़ सकती है.

लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी का कहना है कि मैं ठीक हूं. घर पहुंचकर और राहत महसूस कर रहा हूं. यह ईश्वर के आशीर्वाद, प्रशंसकों की दुआ व चिकित्सकों के अथक प्रयास का परिणाम है कि मैं परिवार और चाहने वालों के बीच हूं. मैं तहे दिल से सभी का शुक्रिया अदा करता हूं.