उत्तराखण्ड के सरकारी शिक्षकों का ड्रेस कोड हुआ जारी

देहरादून, अब उत्तराखण्ड के सरकारी स्कूल के अध्यापक विशेष यूनीफॉर्म में दिखाई देंगे. जी हां सरकारी स्कूलों के बच्चों के ल‌िए ही नहीं बल्क‌ि श‌िक्षकों के ल‌िए भी ड्रेस कोड जारी हो गया है. व‌िभाग ने इसके ल‌िए यूनीफॉर्म का रंग तय कर लिया गया है.विभाग ने शिक्षकों के लिए डार्क स्काई ब्लू कमीज और स्टील ग्रे पेंट निर्धारित की है. वहीं महिला शिक्षकों को स्काई ब्लू कलर की साड़ी पहननी होगी. एक अगस्त से सभी सरकारी स्कूलों के शिक्षकों पर यह नियम लागू होगा. शुक्रवार को महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा कैप्टन आलोक शेखर तिवारी ने ड्रेस कोड निर्धारण संबंधी आदेश जारी किए.

गौरतलब है कि उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार के गठन के बाद से ही राज्य के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड लागू करने का मामला चर्चाओं में है. विभागीय मंत्री और अधिकारी जहां इसे लागू करने की बात कर रहे हैं, वहीं टीचर विरोध में उतरे हैं. कुछ दिन पूर्व एक अगस्त से शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड अनिवार्य करने संबंधी आदेश जारी होने पर भी शिक्षकों ने विरोध जताया था. संगठनों ने सरकार पर आदेश जारी करने से पूर्व उन्हें विश्वास में न लेने का आरोप लगाया था. साथ ही अन्य समस्याओं के समाधान के बाद ही ड्रेस कोड मानने की बात कही.

तब विभागीय आदेश में शिक्षकों की ड्रेस संगठनों की आपसी बातचीत के बाद तय करने का विकल्प दिया गया था. शिक्षक संगठनों को अपनी पसंद से ड्रेस कोड तय करने को कहा गया. लेकिन शुक्रवार को एकाएक विभाग ने खुद ही ड्रेस कोड तय कर उनसे अनुपालन का आदेश जारी कर दिया. आदेश में महानिदेशक ने अपर निदेशक गढ़वाल और कुमाऊं मंडल को पालन सुनिश्चित कराने की जिम्मेदारी सौंपी है. बता दें कि यूपी की योगी सरकार ने भी बच्चों और शिक्षकों की यूनिफॉर्म का ड्रेस कोड जारी किया था.