INDvsWI : विराट के रिकॉर्ड शतक के साथ इंडिया ने वेस्ट इंडीज से सीरीज जीती

किंगस्टन (जमैका)।… कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया ने गुरुवार को विराट कोहली (नाबाद 111 रन) और मोहम्मद शमी (4 विकेट) के धमाकेदार प्रदर्शन से वेस्टइंडीज को सीरीज के पांचवें और अंतिम वनडे में आठ विकेट से हराते हुए उसकी धरती पर लगातार तीसरी वनडे सीरीज जीत ली. इससे पहले उसने साल 2009 में एमएस धोनी की कप्तानी में 4 मैचों की सीरीज 2-1 से जीती थी, वहीं साल 2011 में सुरेश रैना की कप्तानी में 3-2 से जीत दर्ज की थी, जबकि इस बार 3-1 से कब्जा जमाया है.

विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया जब वेस्टइंडीज दौरे पर पहुंची थी, तो सब मानकर चल रहे थे कि इस बार वह क्लीन स्वीप करके नया इतिहास रचेगी, क्योंकि विंडीज की टीम कमजोर मानी जा रही थी, लेकिन उसका यह सपना पूरा नहीं हो सका, क्योंकि पहला मैच बारिश से धुल गया और चौथा मैच विंडीज ने जीत लिया. विराट ने इस मैच में एक रिकॉर्ड भी बनाया. उन्होंने लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे अधिक शतक लगाने के मामले में मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ा.

सबीना पार्क, जमैका में खेले गए पांचवें वनडे में विंडीज ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट पर 205 रन बनाए, जिसके जवाब में टीम इंडिया ने 36.5 ओवर में 2 विकेट पर 206 रन बनाते हुए जीत दर्ज कर ली. विराट कोहली (111 रन, 115 गेंद, 12 चौके, 2 छक्के) और दिनेश कार्तिक (50 रन, 52 गेंद, 5 चौके) नाबाद लौटे. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए नाबाद 122 रन जोड़े. विराट ने करियर का 28वां शतक लगाया.

ओपनर अजिंक्य रहाणे ने 39 रन बनाए. उनको पांच रन पर जीवनदान मिला, जब देवेंद्र बिशू ने कवर पॉइंट के पास उनका कैच छोड़ दिया. रहाणे और विराट ने दूसरे विकेट के लिए 79 रन जोड़े. गेंदबाजी में इंडिय की ओर से मोहम्मद शमी ने 4 विकेट, उमेश यादव ने 3 विकेट, तो हार्दिक पांड्या और केदार जाधव ने एक-एक विकेट लिया.

टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज की धरती पर इस सीरीज को मिलाकर 8 वनडे सीरीज खेल ली हैं, जिनमें से 4 में जीत दर्ज की हैं. इससे पहले भारतीय टीम ने सौरव गांगुली (2002), एमएस धोनी (2009) और सुरेश रैना (2011) की कप्तानी में विंडीज में वनडे सीरीज जीती थीं, लेकिन वह क्लीन स्वीप कर पाने में कभी सफल नहीं हुई. इस बार जरूर इसकी उम्मीद थी, लेकिन प्रकृति ने साथ नहीं दिया. जहां तक विंडीज टीम का सवाल है, तो उसने सर विवियन रिचर्ड्स की कप्तानी में भारत को 1989 में वनडे सीरीज में 5-0 से हराते हुए क्लीन स्वीप किया था. उस समय टीम के कप्तान दिलीप वेंगसरकर थे.

वनडे का फुलटाइम कप्तान बनने के बाद विराट की कप्तानी में विदेशी धरती पर टीम इंडिया की यह पहली सीरीज जीत है. विराट ने अपनी कप्तानी में साल 2013 में जिम्बाब्वे में 5-0 से वनडे सीरीज जीती थी, लेकिन तब वह फुलटाइम कप्तान नहीं थे. फुलटाइम कप्तान बनने के बाद विराट ने पहली वनडे सीरीज पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ भारत में ही खेली थी, जिसमें इंग्लैंड को 2-1 से हराया था.