पिथौरागढ़ : पहाड़ी से मलबा गिरने से पांच की मौत, दो घायल

पिथौरागढ़, पहाड़ों में लगातार हो रही बारिश लोगों के लिए आफत बन गई है. पहाड़ियों से मलबा गिरने का क्रम जारी है. गुरुवार को (आज) धारचूला के निकट एक कार में पहाड़ी से मलबा गिरने से उसमें सवार पांच लोगों की दबने से मौत हो गई, जबिक दो लोग घायल हो गए. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस के अनुसार,गुरुवार को (आज) दोपहर करीब एक बजे एक आल्टो कार (यूके 05 टीए 1281) ऐलागाड़ से धारचूला को आ रही थी. इसी दौरान धारचूला से लगभग तीन किमी दूर घटखोला के पास सड़क कटान का मलबा कार पर गिर गया. इससे कार में सवार सभी छह लोग दब गए. सूचना पर पुलिस-प्रशासन और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और राहत बचाव कार्य शुरू किया.

टीम ने चार शवों को कार से निकाला, जबकि दो लोगों घायलों को अस्पताल पहुंचाया. बता दें कि घटना से कुछ देर पहले आदि कैलास यात्रा का चौथा दल इसी स्थान से गुजरा था. लगातार बारिश से तहसील मुनस्यारी के मूर्ती नापड़ गांव में भूस्खलन हो रहा, जबकि सात मकान खतरे की जद में आ गए हैं. परिवारजनों ने मकान खाली कर दिए हैं. संपर्क मार्ग और पेयजल लाइन ध्वस्त हो गई हैं. भारी बारिश से हुए कटाव से मान सिंह, जगत सिंह, दुर्गा सिंह, हयात सिंह, रमेश राम और दीपक सिंह के मकान खतरे की जद में है. बमनगांव में तीन मकान सड़क धंसने से खतरे की जद में आ गए हैं. आदि कैलास यात्रा के चौथा दल के मृत यात्री का शव मार्ग बंद होने से अभी तक आधार शिविर धारचूला नहीं लाया जा सका है.

तवाघाट गर्बाधार मार्ग में वर्तिगाड के पास मार्ग बंद होने से एसडीआर-एसएसबी के जवान यात्री के शव के साथ फंसे है. इधर, तहसील मुख्यालय से एसडीएम आरके पांडेय के नेतृत्व में राजस्व दल भी वर्तीगाड को रवाना हुआ है. लगातार भारी बारिश के चलते सड़क पर पहाड़ से लगातार मलबा गिर रहा है. जिस कारण बुधवार सायं से शव के साथ एसडीआरएफ और एसएसबी जवान फंसे हैं. मालूम हो कि बुधवार को आदि कैलास से लौट रहे चौथा दल के मुम्बई निवासी शयम भाष्कर कोहली की मालपा के पास अचानक मौत हो गई थी.