हरिद्वार स्थित सहारा की संपत्तियों की 28 जुलाई को निलामी करेगा सेबी

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) उत्तराखंड में सहारा की एक संपत्ति की 28 जुलाई को नीलामी करेगा. इसके लिए आरक्षित मूल्य 223 करोड़ रुपये रखा गया है. इस संकटग्रस्त समूह से वसूली के लिए नियामक यह कदम उठाने जा रहा है.

नियामक ने एक सार्वजनिक सूचना में कहा है कि एसबीआई कैपिटल मार्केट्स को उत्तराखंड के हरिद्वार में बहादराबाद और रानीपुर में 82.93 एकड़ जमीन की ई-नीलामी के लिए अधिकृत किया है.

नोटिस में कहा गया है कि सेबी इच्छुक बोलीदाताओं से बोलियां आमंत्रित करता है. उन्हें आरक्षित मूल्य का 25 प्रतिशत डिमांड ड्राफ्ट, पे आर्डर, आरटीजीएस, नेफ्ट के जरिए सेबी सहारा रिफंड खाते में जमा कराना होगा. नियामक ने कहा कि इस 82.93 एकड़ में से 1.36 एकड़ जमीन का भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने अधिग्रहण किया है.

इसमें कहा गया है कि सफल बोलीदाता से उस 1.36 एकड़ भूमि का मूल्य लिया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट ने सहारा से धन की वसूली के लिए सहारा की कुछ संपत्ति की बिक्री का निर्देश दिया था. सेबी ने सहारा के विभिन्न जमीन के टुकड़ों की नीलामी के लिए एसबीआई कैपिटल मार्केट्स और एचडीएफसी रीयल्टी की नियुक्ति की है.

दो साल तक जेल में रहने के बाद सहारा समूह के प्रमुख सुब्रत राय फिलहाल पैरोल पर हैं. सेबी के साथ लंबे विवाद के बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उन्हें जेल भेजा गया था.