एसिडिटी से राहत पाने के लिए करें ये घरेलू उपाय

आज की भागदौड़ भरी जीवनशैली और अनियमित खान-पान की वजह से लोगों में एसिडिटी की समस्या बेहद आम हो गई है. आमतौर पर तली-भुनी चीज़ें और मसालेदार भोजन के सेवन से पेट में गैस बनने लगती है. एसिडिटी की वजह से पेट में दर्द, छाती में जलन और कई बार सिर में दर्द की समस्या होने लगती है. एसिडिटी के इलाज के लिए बाजार में कई तरह की दवाएं मौजूद हैं लेकिन आप एक घरेलू उपचार भी इससे राहत पा सकते हैं. हम बात कर रहे हैं अजवाइन और काले नमक की.

अजवाइन और काला नमक ही क्यों अजवाइन के बीज प्रोटीन, फैट, मिनरल्स, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट से भरे हुए हैं. इनमें कैल्शियम, थाइमिन, रिबोफ़्लिविन, फास्फोरस, आयरन और नियासिन जैसे आवश्यक तत्व होते हैं. इसमें बायो केमिकल यौगिकों जैसे थेइमोल, पैरा सिमाइन, पिनिन और टेरपीनें शामिल हैं. दूसरी तरफ, काले नमक में सोडियम क्लोराइड होता है और सोडियम सल्फेट, मैग्नीशियम और आयरन जैसे केमिकल तत्व होते हैं. अजवाइन के बीजों में मौजूद थमौल में एंटैसिड प्रॉपर्टी है जो पेट में एसिड रिफ्लेक्स और एसिड का उत्पादन कम करने में मदद करती है. यह अम्लता से पेट के श्लेष्म झिल्ली को भी राहत देता है, पेट में भारीपन की भावना को कम करता है और पाचन में सुधार करता है. जबकि काला नमक पेट में परेशानी, अम्लता और अन्य पाचन समस्याओं को दूर करता है.

अजवाइन के साथ काले नमक का सेवन गैस की समस्या से छुटकारा दिलाता है. ऐसे करें इस उपाय का इस्तेमाल दो चम्मच अजवाइन के बीजों को फ्राई पैन में गर्म कर लें और पाउडर बना लें. इसमें दो चम्मच काला नमक डालें और मिक्स कर लें. दिन में दो बार आधा चम्मच पाउडर गर्म पानी के सह खाएं. इस बात का रखें ध्यान अजवाइन के बीजों का अधिक सेवन ना करें, इससे आपको उल्टी, सिरदर्द, मतली और एलर्जी हो सकती है. इसके अलावा दिन में दो बार से अधिक ना खाएं.