हिज्बुल चीफ सलाहुद्दीन ने भारत पर आतंकी हमले की बात कबूली

नई दिल्ली, हाल ही में अमेरिका द्वारा अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किए गए सैयद सलाहुद्दीन ने खुलेआम स्वीकार किया है कि उसने भारत में आतंकवादी हमले करवाए है. एक पाकिस्तानी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में सलाहुद्दीन ने कहा कि उसके आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन ने भारत में आतंकी वारदातों को अंजाम दिया है. सलाहुद्दीन के इस ‘कबूलनामे’ से भारत का यह दावा फिर पुख्ता हुआ है कि पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल भारत में आतंक फैलाने के लिए किया जा रहा है.

जिओ टीवी को दिए इंटरव्यू में सलाहुद्दीन ने कहा, ‘अभी हमारा फोकस कब्जा करने वाले भारत के सुरक्षाबलों पर है. अभी तक हमने जितने भी ऑपरेशन अंजाम दिए हैं या देने वाले हैं, उनमें हमारा पूरा फोकस सुरक्षाबलों पर रहा है.’ कश्मीर को अपना ‘घर’ बताते हुए उसने कहा कि घाटी में बुरहान वानी की मौत के बाद विद्रोह हो रहा है. यह दावा करते हुए कि भारत में उसके कई समर्थक हैं, हिज्बुल चीफ ने स्वीकार किया कि वह अंतरराष्ट्रीय बाजार से हथियार खरीदता है.

उसने कहा कि अगर पैसे दिए जाएं तो वह कहीं भी हथियारों की सप्लाई करवा सकता है. सलाहुद्दीन ने शेखी बघारते हुए यह भी कहा कि वह भारत में किसी भी जगह को अपना टारगेट बना सकता है. पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा से ठीक पहले अमेरिका ने सैयद सलाहुद्दीन का नाम अतंरराष्ट्रीय आतंकवादियों की सूची में शामिल किया था. उधर अमेरिका के इस कदम से बौखलाए पाकिस्तान के इसे ‘पूरी तरह नाइंसाफी’ करार दिया था.वहीं वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने से तिलमिलाए सलाहुद्दीन ने कहा है कि वह जम्‍मू-कश्‍मीर को आजाद कराने के लिए अपना संघर्ष जारी रखेगा. सलाहुद्दीन ने कहा, हम जम्‍मू-कश्‍मीर को आजाद कराए बिना अपना संघर्ष खत्‍म नहीं करेंगे.