पटना : पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा टला, बाल-बाल बचे 174 यात्री

पटना, पटना के जयप्रकाश नारायण इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा टला. टेक-ऑफ के दौरान दिल्‍ली जाने वाली इंडिगो के विमान के इंजन में आग लग गई. इसके बाद पायलट ने आपातकालीन ब्रेक लगाया, जिससे टायर रनवे पर ही फट गया. विमान में 174 यात्री सवार थे. पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा टला. इस बीच पटना आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स रोक दी गई हैं.जानकारी के अनुसार विमान के इंजन में अचानक कोई तकनीकी खराबी आ गई, जिससे उसके इंजन में आग लग गई. संयोग से केबिन क्रू की नजर धुआं पर पड़ गई. इसके बाद टेक-ऑफ के दौरान पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाया. इस कारण तेज आवाज के साथ टायर फट गया.

दुर्घटना के दौरान पायलट ने विमान पर नियंत्रण बनाए रखा, अन्‍यथा यात्रियों की जान जा सकती थी. इंडिगो प्रबंधन ने इंडिगो प्रबंधन के अनुसार दुर्घटनाग्रस्‍त फ्लाइट नंबर 6ई 415 के विमान में आग लगने की पुष्टि की है. प्रबंधन के अनुसार विमान का टायर नहीं फटा था. एयरपोर्ट के वरीय अधिकरी बता रहे हैं विमान की मरम्‍मत के बाद ही अगली फ्लाइट टेक-ऑफ या लैंड करेगी. एयरपोर्ट निदेशक राजेंद्र सिंह लाहौरिया का दावा है कि परिचालन जल्‍द-से-जल्‍द बहाल कर दिया जाएगा. लेकिन, सूत्र बताते हैं कि इस काम में देर रात तक का समय लगेगा. तब तक एयरपोर्ट पर कोई भी विमान टेक-ऑफ या लैंड नहीं कर सकता है. इस विमान में संसद के जीएसटी सम्‍मेलन में शामिल होने वाले कई वीआइपी भी थे.

दुर्घटना के बाद उन्‍हें अन्‍य यात्रियों को आपातकालीन गेट से बाहर निकाला गया. दुर्घटना के बाद पटना आ रही सभी फ्लाइट्स को डायवर्ट किया गया है. इस क्रम में रांची से पटना आ रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की फ्लाइट को भी वापस रांची भेज दिया गया. विदित हो कि इंडिगो की फ्लाइट के बाद जेट एयरवेज की फ्लाइट से बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी, केंद्रीय मंत्री राम कृपाल यादव, रालोसपा सांसद अरुण कुमार समेत कई नेता जीएसटी के लॉन्चिंग समारोह में शामिल होने के लिए दिल्ली जाने वाले थे. लेकिन, दुर्घटना से उनके देर रात तक दिल्‍ली पहुंचने पर ग्रहण लग गया है.