नेपाल : निकाय चुनाव के दौरान बुधवार को पांच केंद्रों पर मिले बम, दिनभर मचा रहा हड़कंप

पड़ोसी हिमालयी देश नेपाल में चुनाव के दौरान मतदान केंद्रों पर बम म‌िलने से हड़कंप मच गया. इस दौरान पांच केंद्रों पर बम पाए गए. लेक‌िन समय रहते बमों को वहां से हटा द‌िया गया. इसी गहमा-गहमी के बीच प्रधानमंत्री शेरबहादुर देउबा ने अपने गृह क्षेत्र डडेलधूरा जिले के गन्यात बुढ़ा मतदान केंद्र में वोट डाला.

उत्तराखंड से लगे नेपाल के सुदूर पिश्चिम के नौ जिलों में निकाय, पंचायती चुनाव के लिए मतदान छिटपुट घटनाओं को छोड़ शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. चुनाव विरोधियों ने बम विस्फोट कर चुनाव को बाधित करने की नाकाम कोशिश जरूर की.

कंचनपुर जिला मुख्यालय महेंद्रनगर के धीरकुटी मतदान केंद्र और बैतड़ी जिले के पुरचुड़ी नगरपालिका के एक बूथ पर बम विस्फोट होने से कुछ देर तक भारी अफरातफरी मच गई. हालांकि संतोष की बात यह रही कि विस्फोट में किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा.

कंचनपुर के तीन अन्य मतदान केंद्रों में बम विस्फोट की कोशिश को सुरक्षा बलों ने नाकाम कर दिया. कंचनपुर की नौ नगर पालिकाओं, दो ग्राम पंचायतों के लिए करीब 70 प्रतिशत मतदान हुआ है.

28 जून को नेपाल के राज्य संख्या 1, 3, 5, 7 में निकाय, पंचायत चुनाव के लिए मतदान हुआ. बैतड़ी में 11 बजे तक 25 प्रतिशत, 12 बजे तक 41 प्रतिशत मतदान हुआ.

यहां अंतिम आंकड़े देर शाम तक नहीं मिल पाए. बैतड़ी के जिला निर्वाचन अधिकारी और जिलाधिकारी तुलसीराम पौडेल ने बताया कि विस्फोट होने की सूचना मिलने पर नेपाली सेना के बम डिस्पोजल टीम को मौके पर भेज दिया गया था.

बैतड़ी के पुलिस अधीक्षक हेरंब शर्मा ने बताया कि बम का धमाका जबरदस्त था. कंचनपुर जिले में करीब 70 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले. सुबह मूसलाधार बारिश होने से शुरुआती दौर में मतदान का प्रतिशत कम रहा, लेकिन मौसम खुलने पर दोपहर बाद मतदान केंद्रों में वोटरों की खासी भीड़ उमड़ी.

कंचनपुर के एसपी प्रकाश चंद ने बताया कि महेंद्रनगर के धीरकुटी मतदान केंद्र करीब सौ मीटर दूर सुबह साढ़े दस बजे बम विस्फोट हुआ, जिससे कोई नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन कुछ देर तक अफरा-तफरी रही. बाद में नेपाल पुलिस, सशस्त्र पुलिस, नेपाल सेना ने सुरक्षा चौकस कर मतदान केंद्रों के आसपास सर्च अभियान चलाया तो बिलौरी, दोधारा चांदनी, तिलाचौड़ मतदान केंद्र के पास रखे बम बरामद किए गए.

चुनाव में व्यवधान की इस कोशिश में चुनाव का विरोध कर रहे माओवादी विप्लव गुट का हाथ माना जा रहा है. कंचनपुर जिले की सात नगर पालिकाओं के मेयर, उप मेयर पद के अलावा दो ग्राम पंचायतों के लिए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं 92 वार्डों के लिए दलित महिला सदस्य, महिला सदस्य, सामान्य सदस्य के चुनाव के लिए मतदान हुआ है.

नेपाल में निकाय, पंचायत चुनाव के लिए बुधवार को संपन्न हुए मतदान के बाद मतों की गिनती शुरू हो गई है. बताया गया कि चुनाव के नतीजे 30 जून की देर शाम से आने शुरू होंगे.

नेपाल में चुनाव के मद्देनजर भारतीय प्रशासन ने नेपाली प्रशासन के अनुरोध पर सीमा पर पूरी चौकसी बरती. पुलिस, एसएसबी और खुफिया तंत्रों की सीमा पर पैनी नजर रही. सीओ राजन सिंह रौतेला ने बताया कि शाम पांच बजे बाद सीमा पहले की तरह खोल दी गई. दोनों सीमा पर फंसे लोगों ने सीमा खुलने के बाद राहत की सांस ली. अलबत्ता तीन दिन भारत-नेपाल सीमा सील रहने से रोडवेज को करीब 15 लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ा.