सर्जिकल स्ट्राइक पर दुनिया में किसी ने सवाल नहीं उठाया : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

वर्जीनिया|….. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के वर्जीनिया में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर अगर ‘दुनिया चाहती तो भारत के बाल नोंच लेती’, लेकिन किसी ने उस पर कोई सवाल नहीं उठाया. मोदी ने कहा कि सजर्किल स्ट्राइक यह साबित करती है कि भारत अपनी रक्षा के लिए कड़े से कड़े कदम उठाने में नहीं हिचकेगा. पीएम ने इस दौरान पाकिस्तान पर तंज कसे तो चीन पर भी इशारों में निशाना साधा.

मोदी ने कहा कि भारत विश्व को आतंकवाद के उस चेहरे के बारे में समझाने में सफल रहा है, जो देश में शांति और सामान्य जीवन को तबाह कर रहा है. उन्होंने कहा , ‘जब हम आज से 20 साल पहले के आतंकवाद की बात करते थे, तो दुनिया में कई लोगों ने कहा था कि यह कानून और व्यवस्था से जुड़ी समस्या है और तब वे इसे समझते नहीं थे. अब आतंकियों ने उन्हें आतंकवाद का अर्थ समझा दिया है, इसलिए हमें अब उन्हें समझाने की जरूरत ही नहीं है.’

 

मोदी ने कहा कि सजर्किल स्ट्राइक ने दिखा दिया कि आम तौर पर संयम के सिद्धांत का पालन करने वाला भारत जरूरत पड़ने पर अपनी संप्रभुता की रक्षा भी कर सकता है और अपनी सुरक्षा सुनिश्चित भी कर सकता है. उन्होंने प्रवासी भारतीयों से कहा, ‘भारत ने जब सजर्किल हमले किए तो विश्व को हमारी ताकत का अहसास हो गया. दुनिया ने देखा कि वैसे तो हम संयम बरतते हैं, लेकिन आतंकवाद से निपटने और खुद की सुरक्षा करने के दौरान जरूरत पड़ने पर भारत अपनी शक्ति और पराक्रम भी दिखा सकता है.’

 

पीएम मोदी ने कहा, ‘सर्जिकल स्ट्राइक एक ऐसी घटना थी, यदि दुनिया चाहती, तो भारत के बाल नोंच लेती. हमें कटघरे में खड़ी करती, हमसे जवाब मांगा जाता, लेकिन भारत के इतने बड़े कदम पर दुनिया में कहीं भी एक सवाल तक नहीं उठा. मोदी ने पाकिस्तान पर एक और तंज कसते हुए कहा, ‘हां, उन लोगों की बात और है, जो सजर्किल हमलों का शिकार बने.’ उनकी यह बात सुनकर वहां बैठे श्रोता ठहाके लगाने लगे.