भारत के बाद अब नेपाल में भी लैब टेस्‍ट में फेल हुए पतंजलि के प्रोडक्‍ट्स

नई दिल्ली,बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के कई उत्पाद क्वालिटी टेस्ट में धीरे-धीरे फैल होते जा रहे है. भारत में प्रोडक्‍ट क्वालिटी टेस्‍ट में फेल होने के बाद अब पतंजलि उत्पादों को पड़ोसी देश नेपाल में भी बड़ा झटका लगा है. क्वालिटी टैस्ट में फेल होने के बाद नेपाल के दवा नियामक ने बाबा रामदेव के पतंजलि की सात आयुर्वेदिक दवाओं को परीक्षण में घटिया पाए जाने के बाद उन्हें वापस लेने को कहा है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नेपाल के दवा प्रशासन विभाग ने बुधवार को जारी एक सार्वजनिक नोटिस में कहा कि उत्तराखंड स्थित दिव्य फार्मेसी में बनी सात दवाएं परीक्षण में घटियां पाई गईं. सूक्ष्मजीव संबंधी परीक्षण में जो दवाएं घटिया पाई गई वे पतंजलि के बक्तोलव, आंवला चूर्ण, दिव्य गैसहर चूर्ण, बकुची चूर्ण, त्रिफला चूर्ण, अश्वगंधा और अद्वेय चूर्ण हैं. विभाग के एक अधिकारी ने कहा, दवाओं के खेप का विभाग द्वारा परीक्षण किया गया तो माइक्रोबियल टेस्ट में फेल हो गए हैं. विभाग ने संबंधित पक्षों से तत्काल प्रभाव से इन दवाओं को नहीं बेचने या उनके उपयोग की सलाह नहीं देने को कहा है.

वहीं पतंजलि आयुर्वेद के सूत्र ने कहा कि दवाओं पर रोक नहीं लगाई गई है, बल्कि दवाओं के एक खास खेप की बिक्री एवं उपयोग निषिद्ध की गई है जो परीक्षण में विफल रहा. उसने कहा यदि संबंधित दवाएं घटिया पाई गईं तो हम तत्काल उन्हें वापस ले लेंगे. बता दें कि पिछले महीने सेना की कैंटीन ने भी पतंजलि के आंवला जूस पर प्रतिबंध लगा दिया था. सेना ने यह कार्रवाई पश्चिम बंगाल स्‍वास्‍थ्‍य प्रयोगशाला द्वारा की गई एक गुणवत्‍ता जांच में पतंजलि के उत्‍पाद के फेल होने पर की थी.