वन रक्षक भर्ती में आयु सीमा घटाकर लगभग आधी की गई, बेरोजगारों को झटका

उत्तराखंड में वन रक्षक और प्रवर्तन सिपाही भर्ती की आयु सीमा घटाए जाने से प्रदेश के बेरोजगारों को झटका लगा है. वन रक्षक पद पर भर्ती की आयु सीमा अधिकतम 42 वर्ष से घटाकर 23 साल कर दी गई है.

उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश सहित कई प्रदेशों में वन रक्षक एवं अन्य पदों पर भर्ती की आयु सीमा 18 से 42 साल है, लेकिन उत्तराखंड में आयु सीमा कम कर दी गई है. बेरोजगार पुष्पेंद्र कुमार व हरीश के मुताबिक प्रदेश में वन रक्षक के पदों पर भर्ती के लिए अब तक आयु सीमा 18 से 42 साल थी.

वहीं शैक्षिक योग्यता हाईस्कूल पास रखी गई थी. पिछले साल इसी आयु वर्ग और शैक्षिक अर्हता के आधार पर भर्ती हुई थी, लेकिन अब विभिन्न विभागों में भर्ती की आयु सीमा घटा दी गई है.

प्रमुख वन संरक्षक एचआरडी मोनिश मलिक ने बताया कि वन विभाग में नई तकनीकी, एनजीटी से संबंधित मामले व वाइल्ड लाइफ से संबंधित प्रकरण आते हैं, पढ़े लिखे व चुस्त दुरुस्त वन रक्षक विभाग को मिलें इसे लेकर यह निर्णय लिया गया है.